Rakesh Jhunjhunwala Dead: सिर्फ 5000 रुपए से राकेश झुनझुनवाला ने खरीदने शुरू किए थे शेयर, इस वजह से कहा जाता था भारत का वॉरेन बफे

राकेश झुनझुनवाला के निधन से शेयर बाजार की नब्ज पहचानने वाले अब कम ही लोग बचे हैं। राकेश झुनझुनवाला के पास ज्यादातर ब्लूचिप कंपनियों के शेयर थे। वो शेयर बाजार के बड़े निवेशकों में से एक थे। झुनझुनवाला ने एक इंटरव्यू में बताया था कि कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही उनको शेयर खरीदने का चस्का लगा। वो इस काम में इतना पैसा कमा चुके थे कि उनको भारत का वॉरेन बफे भी कहा जाने लगा था।

Avatar Written by: August 14, 2022 9:48 am
rakesh jhunjhunwala

मुंबई। शेयर मार्केट के बिग बुल कहे जाने वाले राकेश झुनझुनवाला का अचानक निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि अस्पताल ले जाने पर उन्हें मृत घोषित किया गया। राकेश झुनझुनवाला के निधन से शेयर बाजार की नब्ज पहचानने वाले अब कम ही लोग बचे हैं। राकेश झुनझुनवाला के पास ज्यादातर ब्लूचिप कंपनियों के शेयर थे। वो शेयर बाजार के बड़े निवेशकों में से एक थे। झुनझुनवाला ने एक इंटरव्यू में बताया था कि कॉलेज में पढ़ाई के दौरान ही उनको शेयर खरीदने का चस्का लगा। ये शौक मौत तक जारी रहा। बीते दिनों भी राकेश ने कई स्टॉक खरीदे और बेचे थे। जिससे उन्हें तगड़ी कमाई हुई थी। इसी वजह से उनको भारत का वॉरेन बफे भी कहा जाता था।

rakesh jhunjhunwala2

राकेश ने खुद बताया था कि शेयर बाजार में हाथ आजमाने के साथ ही उन्होंने इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया में भी दाखिला लिया। यहां से वो चार्टर्ड अकाउंटेंट बने। फिर शेयर बाजार में लगातार निवेश करते रहे। उन्होंने बताया था कि साल 1985 में उन्होंने शेयर बाजार में 5000 रुपए से निवेश की शुरुआत की थी। लगातार शेयरों की खरीद-बिक्री कर वो इस निवेश को साल 2018 में ही 11000 करोड़ तक ले आए थे। राकेश झुनझुनवाला ने ये भी बताया था कि शेयर मार्केट में निवेश करने वालों को रोज अखबार पढ़ना चाहिए। उन्होंने ये भी बताया था कि पिता ने शेयर बाजार में निवेश करने की मंजूरी तो उनको दी, लेकिन किसी तरह की वित्तीय मदद नहीं की। दोस्तों से रकम उधार लेकर उन्होंने ये काम शुरू किया था।

rakesh jhunjhunwala with modi

राकेश झुनझुनवाला की ख्याति शेयर खरीदने और बेचने से इतनी हो गई थी कि वो अमेरिका के बड़े निवेशक जॉर्ज सोरोस और पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी तक के करीबी हो गए थे। अकासा एयर को प्रमोट करने से पहले राकेश झुनझुनवाला ने पीएम नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात की थी। इस मुलाकात के बाद ही उन्होंने अकासा एयर लाने का एलान किया था। झुनझुनवाला हंगामा मीडिया और एप्टेक कंपनियों के अध्यक्ष भी थे। इसके अलावा वो वायसरॉय होटल्स, कॉनकॉर्ड बायोटेक, प्रोवोग इंडिया और जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के डायरेक्टर पद पर भी रहे।