Cryptocurrency पर डजकॉइन के सहनिर्माता ने निकाली भड़ास, कहा- इसमें शामिल है भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और असमानता

cryptocurrency: पामर क्रिप्टोकरेंसी को लेकर जमकर भड़ास निकाली है। उस दौरान उन्होने क्रिप्टोकरेंसी को “स्वाभाविक रूप से दक्षिणपंथी, अति-पूंजीवादी तकनीक” बताया है। हालांकि पामर सोशल मीडिया पर सक्रिय नहीं रहते है।

Written by: July 16, 2021 3:33 pm

नई दिल्ली। अक्सर सोशल मीडिया से दूर रहने वाले डजकॉइन के सह-निर्माता जैक्सन पामर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर किया है। अपनी इस वीडियो में पामर क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में वापस कदम नहीं रखने की बात कहते दिख रहे हैं। दरअसल इस वीडियो में पामर क्रिप्टोकरेंसी को लेकर जमकर भड़ास निकाली है। उस दौरान उन्होने क्रिप्टोकरेंसी को “स्वाभाविक रूप से दक्षिणपंथी, अति-पूंजीवादी तकनीक” बताया है। हालांकि पामर सोशल मीडिया पर सक्रिय नहीं रहते है। बल्कि साल 2019 में उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट को प्राइवेट भी कर दिया था।

cryptocurrency

यहां तक कि जब डॉजकॉइन की कीमतें बढ़ी थी, तब भी पामर का कोई रिएक्शन सामने नहीं आया था। हालांकि, पामर ने ट्विटर को अपनी भड़ास निकालने के लिए लंबे समय बाद इस्तेमाल किया। उन्होंने विभिन्न क्रिप्टोकरेंसी पर अपना गुस्सा निकाला है। क्रिप्टो को बोगस बताया और कहा कि “एक स्वाभाविक रूप से दक्षिणपंथी, अति-पूंजीवादी तकनीक” है।

bitcoin, cryptocoin, digital money

वही अपना दूसरा ट्वीट करते हुए पामर ने कहा कि डिजिटल करेंसी मुख्य रूप से टैक्स से बचाव और रेगुलेटरी निरीक्षण से बचाव के जरिए “अपने समर्थकों के धन को बढ़ाने” के लिए बनाई गई थीं। इसके  साथ ही उनका कहा है कि “विकेंद्रीकरण” के दावों के बावजूद, धनी लोगों के एक पावरफुल ग्रुप ने क्रिप्टो मार्केट को नियंत्रित किया हुआ है।

crypto currency india

क्रिप्टोकरेंसी आज की पूंजीवादी व्यवस्था के सबसे खराब हिस्से को लेने की तरह है, जिसमें भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और असमानता शामिल हैं। इसी तरह उन्होंने कई ट्वीट कर अपना गुस्सा निकाला है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost