भारत की अर्थव्यवस्था ने हासिल की विश्व में ये अनोखी उपलब्धि!

इतना ही नहीं क्रय शक्ति समानता (पीपीपी) के आधार पर भारत जापान और जर्मनी से आगे निकल गया है। भारत का इस आधार पर का जीडीपी 10.51 ट्रिलियन डॉलर है और यह जापान तथा जर्मनी से आगे है।

Written by: February 18, 2020 9:51 pm

नई दिल्ली। मोदी सरकार की अगुवाई में देश की अर्थव्यवस्था ने संपूर्ण विश्व में झंडा गाड़ दिया है। भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। 2.94 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के साथ भारत ने साल 2019 में ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले पांच साल के भीतर भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने का लक्ष्य रखा है।

Modi Kashi Vanarasi Ganga

अमेरिका के शोध संस्थान वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू ने अपनी रिपोर्ट में इस बड़े तथ्य की जानकारी दी है। इस संस्थान ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि आत्मनिर्भर बनने की पूर्व की नीति से भारत अब आगे बढ़ते हुए एक खुली बाजार वाली अर्थव्यवस्था के रूप में विकसित हो रहा है। इस रिपोर्ट में भारत की अर्थव्यवस्था के लिए कई उत्साहवर्धक बातें की गई हैं।

India Economy

रिपोर्ट में कहा गया है, ‘सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के मामले में भारत 2.94 लाख करोड़ (ट्रिलियन) डॉलर के साथ दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। इस मामले में उसने 2019 में ब्रिटेन तथा फ्रांस को पीछे छोड़ दिया। आंकड़ों के मुताबिक भारत की अर्थव्यवस्था ने ब्रिटेन और फ्रांस की अर्थव्यवस्था को रेस में पीछे छोड़ दिया है ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था का आकार 2.83 ट्रिलियन डॉलर है, जबकि फ्रांस का 2.7 ट्रिलियन डॉलर है।

gdp

इतना ही नहीं क्रय शक्ति समानता (पीपीपी) के आधार पर भारत जापान और जर्मनी से आगे निकल गया है। भारत का इस आधार पर का जीडीपी 10.51 ट्रिलियन डॉलर है और यह जापान तथा जर्मनी से आगे है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में आर्थिक उदारीकरण 1990 की दशक में शुरू हुआ है। उद्योगों को नियंत्रण मुक्त किया गया और विदेशी व्यापार एवं निवेश पर पर नियंत्रण कम किया। साथ ही सरकारी कंपनियों का निजीकरण किया गया। इन उपायों से भारत को आर्थिक वृद्धि तेज करने में मदद मिली है। रिपोर्ट जारी करने वाला अमेरिकी का वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू एक स्वतंत्र संगठन है।