जानें भारत में क्यों बढ़ रहा क्रिप्टोकरेंसी पर निवेश, भारत में रोजाना कितने का है इसका व्यापार

cryptocurrency: बीते कुछ सालों में ही क्रिप्टो ने भारतीय बाजार में अपने पैर इतनी तेजी से पसारे हैं कि अब देश में कुल 15 क्रिप्टो एक्सचेंज बिजनेस कर रहे हैं। कहा जाता है इनका रोजाना का कारोबार लगभग 1500 करोड़ रुपये के आस पास का है जो कि अपने आप में एक चौकाने वाला आंकड़ा है।

Written by: July 5, 2021 3:54 pm
Bitcoin currency

नई दिल्ली। क्रिप्टोकरंसी और बिटकॉइन ने बहुत कम समय में लोगों के बीच अपनी पकड़ मजूबत कर ली है। बात अगर भारत की करें तो, यहां इसका कारोबार करने वाली कंपनियां का मुनाफा दिनों-दिन लाखों का हो रहा है। क्रिप्टोकरेंसी की बढ़ती लोकप्रियता के कारण लोगों का ध्यान गोल्ड की तरफ कम होते जा रहा है। ये एक तरह का डिजिटल गोल्ड है जिसमें दिन-ब-दिन हो रहे मुनाफे के कारण लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर रहा है।

क्रिप्टोकरेंसी

क्रिप्टो में बढ़ा निवेश

जिस तरह क्रिप्टो करेंसी का क्रेज बढ़ रहा है, वैसे ही यहां निवेशकों की संख्या भी बढ़ रही है। देश में फिलहाल एक करोड़ एक्टिव इन्वेस्टर हैं, जो क्रिप्टो करेंसी में ट्रेडिंग करते हैं। तो वहीं शेयर बाजार में निवेश करने वाले और ट्रेडर की संख्या भी करीब 6 करोड़ हो गई है। शेयर बाजार की तुलना में करीब 20 प्रतिशत लोग क्रिप्टो करेंसी में निवेश और ट्रेडिंग कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि डिजिटल कॉइन खरीदने के कारोबार में करीब ढेड करोड़ से ज्यादा भारतीय शामिल हैं।

बिटकॉइन ..

भारत में है बड़ा कारोबार

बीते कुछ सालों में ही क्रिप्टो ने भारतीय बाजार में अपने पैर इतनी तेजी से पसारे हैं कि अब देश में कुल 15 क्रिप्टो एक्सचेंज बिजनेस कर रहे हैं। कहा जाता है इनका रोजाना का कारोबार लगभग 1500 करोड़ रुपये के आस पास का है जो कि अपने आप में एक चौकाने वाला आंकड़ा है।

bitcoin4

कई देशों में बैन, क्रिप्टो का कारोबार

एक ओर जहां दुनियाभर के कई देशों में ये अपनी जड़े मजबूत कर रहा है, तो वहीं कई देश ऐसे भी हैं जिन्होंने (क्रिप्‍टोकरेंसी) इसे अपने यहां पूरी तरह से बैन कर दिया है। इन देशों की बात करें तो, इनमें ईरान और सऊदी अरब शामिल है। वहीं, भारत, रूस, ब्राजील समेत कई ऐसे देश हैं, जो अभी भी डिजिटल एसेट को लेकर विचार विमर्श कर रहे हैं। अभी इसे लेकर कोई सख्त कदम नहीं उठाया गया है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost