सुशांत के परिजन चाहेंगे इस मामले की सीबीआई जांच हो, तो इस पर विचार किया जाएगा : बिहार डीजीपी

सुशांत आत्महत्या मामले में बिहार डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पांडेय ने शनिवार को पत्रकारों से खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि मुंबई में जांच कर रही बिहार पुलिस की टीम अब तक दिवंगत अभिनेता के दोस्तों, सहयोगियों और रिश्तेदारों से मुलाकात की है और उनसे कई अहम जानकारियां जुटाई हैं।

Written by: August 1, 2020 7:21 pm

पटना। बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने शनिवार को कहा कि पटना में दर्ज अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या से जुड़े मामले में मुंबई गई बिहार पुलिस की एक टीम अभी मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को ‘लोकेट’ नहीं कर पाई है। उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस सबूतों के आधार पर काम कर रही है और अगर जरूरत पड़ी तो यहां से वरिष्ठ अधिकारी मुंबई भेजे जाएंगे, जिससे कि वे अपने समकक्षों से मिलकर हालात अपने अनुरूप कर सकें।

bihar djp on sushant

सुशांत आत्महत्या मामले में पांडेय ने शनिवार को पत्रकारों से खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि मुंबई में जांच कर रही बिहार पुलिस की टीम अब तक दिवंगत अभिनेता के दोस्तों, सहयोगियों और रिश्तेदारों से मुलाकात की है और उनसे कई अहम जानकारियां जुटाई हैं।

पांडेय ने कहा, “मुम्बई गई चार सदस्यीय टीम ने सुशांत की बहन, पूर्व गर्लफ्रेड अंकिता लोखंडे, उनके रसोइया, उनके दोस्तों और सहकर्मियों के बयान दर्ज किये हैं। साथ ही टीम राजपूत के बैंक खातों से किए गए लेन-देन की जानकारी इकट्ठा करने के लिए भी बैंक गई थी। रिया चक्रवर्ती को हालांकि अभी ‘लोकेट’ नहीं किया जा सका है।”

मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराने के संबंध में पूछे जाने पर डीजीपी ने कहा, “बिहार पुलिस इस मामले की जांच के लिए सक्षम है। अगर सुशांत के परिजन चाहेंगे कि इस मामले की जांच सीबीआई से हो, तो इस पर विचार किया जाएगा, लेकिन बिहार पुलिस किसी भी हद तक सुशांत को न्याय दिलाने तक जाएगी। और मैं आपको यकीन दिलाता हूं कि बिहार पुलिस सुशांत की आत्मा की शांति के लिए उनके परिजनों को न्याय दिलाने में पूरी तरह सक्षम है।”

Rhea Chakraborty and Sushant Singh

कई लोगों द्वारा इस मामले में क्षेत्राधिकार के बाहर जाकर मामला दर्ज करने के आरोप के संबंध में पूछे जाने पर डीजीपी ने स्पष्ट कहा कि पटना में सुशांत के बुजुर्ग पिताजी ने मामला दर्ज कराया है और पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। इसके बाद एक आरोपी इस मामले को लेकर सर्वोच्च न्यायालय गई हैं।

उन्होंने कहा, “सर्वोच्च न्यायालय का जो भी आदेश होगा उसका पालन किया जाएगा। अगर बिहार पुलिस को मामले की जांच का मौका मिलता है तो सच सामने लाया जाएगा।” उन्होंने अन्य अधिकारियों को मुंबई भेजे जाने के संबंध में बताया कि अगर जरूरत पड़ी तो आईपीएस स्तर के राज्य के वरिष्ठ अधिकारी को भी मुंबई भेजा जाएगा, जिससे कि वह मुम्बई में अपने समकक्षों से मिलकर हालात को बेहतर बना सकें। फिलहाल मुम्बई में बिहार पुलिस की टीम शिद्दत से अपने काम में जुटी है और इस क्रम में उसे कई आशातीत सफलता भी मिली है।

उल्लेखनीय है कि पटना के रहने वाले और बालीवुड के चर्चित अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद इस मामले की जांच मुंबई पुलिस कर रही थी। इसके बाद सुशांत के पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के सदस्यों सहित छह अन्य लोगों के खिलाफ उनके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने को लेकर पटना के राजीवनगर थाना में एक मामला दर्ज करवाया। मामला दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस ने मुंबई पहुंचकर मामले की जांच प्रारंभ कर दी। रिया ने हालांकि इस मुकदमे को मुम्बई शिफ्ट किए जाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इस सम्बंध में सुप्रीम कोर्ट में पांच अगस्त को सुनवाई होनी है।