सुशांत केस : रिया चक्रवर्ती की शिकायत के बाद ब्रांदा पुलिस स्टेशन ने प्रियंका और मीतू सिंह के खिलाफ दर्ज की FIR

रिया चक्रवर्ती (Rhea Charkravarty) की शिकायत के बाद ब्रांदा पुलिस स्टेशन (Bandra Police Station) ने सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की दो बहनों प्रियंका सिंह (Priyanka Singh) और मीतू सिंह (Meetu Singh) के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की है।

Avatar Written by: September 8, 2020 8:40 am
rhea chakravartyFI

मुंबई। बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के केस में हर रोज कोई नया खुलासा हो रहा है। अब इस केस में एक नया मोड़ आ गया है। रिया चक्रवर्ती (Rhea Charkravarty) ने दिवंगत अभिनेता की दो बहनों प्रियंका सिंह (Priyanka Singh) और मीतू सिंह (Meetu Singh) के खिलाफ ब्रांदा पुलिस स्टेशन (Bandra Police Station) में शिकायत दर्ज कराई। जिसके 12 घंटे के भीतर एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली गई है। दोनों बहनों पर सुशांत को सुसाइड के लिए उकसाने का आरोप लगा है।

rhea sushant

प्रियंका,मीतू सिंह और डॉक्टर तरुण कुमार के खिलाफ शिकायत दर्ज

सुशांत की बहनों और एक डॉक्टर तरुण कुमार के खिलाफ रिया द्वारा शिकायत दर्ज करने के 12 घंटे के भीतर ही एफआईआर दर्ज कर ली गई। ब्रांदा पुलिस स्टेशन में इंस्पेटर प्रमोद कुंभार ने दोनों बहनों और एक डॉक्टर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की।

sushant priyanka

आत्महत्या के लिए उकसाने, धोखेबाजी और अपराधिक षडयंत्र रचने का मामला दर्ज

बता दें कि डॉ. तरुण कुमार दिल्ली के डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में कार्डियोलॉजी के एसोसिएट प्रोफ्रेसर हैं और उन पर सुशांत के लिए दवाइयां उपलब्ध करवाने का आरोप है। इन सभी पर आत्महत्या के लिए उकसाने, धोखेबाजी और अपराधिक षडयंत्र रचने का मामला दर्ज किया गया है।

इन धाराओं के तहत मामला दर्ज

द हिंदू के मुताबिक, इन सभी पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति की डिलीवरी देने), 464(एक झूठा दस्तावेज बनाने), 465(जालसाजी करना), 466(अदालत के रिकॉर्ड की जालसाजी या पब्लिक रजिस्टर, आदि), 468 (धोखाधड़ी के उद्देश्य के लिए जालसाजी),474(दस्तावेजों का कब्ज़ा)। 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना), और 120 बी (आपराधिक साजिश) के तहत एफआईआर दर्ज हुई है।

rhea sushant

नारकोटिक्स ड्रग्स और साइकोट्रोपिक सबस्टेंस एक्ट मामला दर्ज

इसके अलावा इन पर नारकोटिक्स ड्रग्स और साइकोट्रोपिक सबस्टेंस एक्ट के तहत धारा 8(1), 21, 22 और 29 मुकदमा दर्ज किया गया है। रिया चक्रवर्ती ने इससे पहले 7 पन्नों की शिकायत पुलिस दी थी। जिसमें उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत को बाइपोलर डिसऑर्डर होने का पता चला था और उनका अनेक अन्य मानसिक सेहत संबंधी समस्याओं के लिए इलाज चल रहा था। उन्होंने शिकायत में कहा कि राजपूत सही से इलाज नहीं करा रहे थे और अकसर दवाएं लेना बंद कर देते थे।

शिकायत में क्या कहा रिया ने?

रिया ने अपनी शिकायत में कहा, ”सुशांत ने आठ जून, 2020 को मुझे फोन के वो संदेश दिखाए जिनमें उनके और उनकी बहन प्रियंका के बीच बातचीत हुई है और प्रियंका ने उन्हें दवाओं की एक सूची भेजी है। मैंने राजपूत को बताया कि उन्हें डॉक्टरों ने पहले ही दवाएं बता रखी हैं जो उनका पहले से इलाज कर रहे हैं। हालांकि वह मुझसे सहमत नहीं हुए और कहा कि केवल वो ही दवाएं लेंगे जो उनकी बहन कह रही हैं।

sushant fi

उन्होंने कहा कि उसी दिन राजपूत ने रिया से उनके घर से जाने को कहा कि क्योंकि उनकी बहन मीतू सिंह कुछ दिन के लिए रुकने आ रही थीं।

शिकायत के मुताबिक, ”यह बात सामने आ गयी है कि राजपूत ने आठ जून को अपनी बहन प्रियंका से कहा था कि वह उक्त दवाएं बिना डॉक्टर के परामर्श पत्र के नहीं ले पाएंगे। उसी दिन उनकी बहन प्रियंका ने उन्हें दिल्ली के डॉ राम मनोहर लोहिया अस्पताल में कार्यरत डॉ तरुण कुमार के हस्ताक्षर वाला नुस्खा भेज दिया।” बता दें कि इसी चैट को आधार बना कर रिया ने सुशांत की बहनों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।