Connect with us

मनोरंजन

Boycott Laal Singh Chaddha: क्या Mukesh Khanna ने Aamir Khan की फिल्म के बॉयकॉट का किया समर्थन, बोले-अभिव्यक्ति की आजादी सिर्फ मुस्लिमों के पास है, हिन्दुओं के पास नहीं

Boycott Laal Singh Chaddha: क्या Mukesh Khanna ने Aamir Khan की फिल्म के बॉयकॉट का समर्थन किया, बोले – अभिव्यक्ति की आजादी सिर्फ मुस्लिमों के पास है, हिन्दुओं के पास नहीं यहां हम बताएंगे, आखिर फिल्म लाल सिंह चड्ढा को लेकर सेलिब्रिटी मुकेश खन्ना ने क्या कहा है ?

Published

on

नई दिल्ली। लाल सिंह चड्ढा (Laal Singh Chaddha) लगातार कंट्रोवर्सी का सामना कर रही है। ट्वीटर पर फिल्म को बहिष्कार करने की बात चल रही है। इसके अलावा हाल ही में रेसलर वीर महान ने भी एक वीडियो शेयर कर ऐसी फिल्मों को बहिष्कार करने को कहा जो भारतीय संस्कृति और हिन्दू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाते हैं। 11 अगस्त को रिलीज़ होने वाली फिल्म लाल सिंह चड्ढा अब इतनी चर्चा में आ गई है की उसे पब्लिसिटी करने की भी जरूरत नहीं पड़ रही है। उसे अच्छी खासी पब्लिसिटी ट्वीटर पर चल रहे #boycottlaalsinghchaddha से मिल गई है। एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी कुछ दिन पहले इंस्टाग्राम पर लिखा था की यह आमिर खान की चाल है जिसके काऱण आमिर की फिल्म का प्रचार हो रहा है। अब फिल्म को लेकर मुकेश खन्ना ने भी अपनी बात रखी है। मुकेश खन्ना लगातार हिन्दू संस्कृति और धर्म के उत्थान की बात अपने यूट्यूब चैनल पर करते है। यहां हम बताएंगे, आखिर फिल्म लाल सिंह चड्ढा को लेकर सेलिब्रिटी मुकेश खन्ना ने क्या कहा है ?

रिपोर्टर का सवाल

जब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुकेश खन्ना से रिपोर्टर ने पूछा,”लाल सिंह चड्ढा को लेकर कॉन्ट्रोवर्सी बन रही है कि फिल्म को बायकाट करना चाहिए,आपके हिसाब से फिल्म देखना चाहिए या नहीं देखना चाहिए ? इसके अलावा आमिर के 7 साल पहले इन्टोलेरेंस के बयान को आप कहां तक सही और गलत मानते हैं?”

मुकेश खन्ना ने क्या कहा

इस सवाल पर मुकेश खन्ना ने पहले तो इस मामले को संवेदनशील बताया और फिर खुलकर अपनी बात रखी, “आज हम जिस पायदान पर खड़े हैं, वहां आज क्या बोलना चाहिए और क्या नहीं बोलना चाहिए ये एक धर्म सम्प्रदाय ने दिखा दिया, कि खबरदार आपने ऐसी कोई बात बोल दी तो ! सुना होगा आपने, उसके ऊपर रिएक्शन भी देखें होंगे आपने। (शायद यहां मुकेश ख्नन्ना नूपुर शर्मा वाले मामले की बात कर रहे हैं)

आगे मुकेश खन्ना ने कहा,”जब ऐसे बड़े बड़े रिएक्शन आते हैं और जब इससे उल्टा होता है और हिन्दू अपने आपको सहिष्णु मानते हैं, मैं उसको कायर मानता हूं। हमारे पर मुगलों ने इसलिए हमला किया क्योंकि हमने कहा आइये आइये, हमारे लिए अतिथि देवो भव है। ऐसा नहीं है, आपको रियेक्ट करना पड़ेगा।

आमिर के असहिष्णुता वाले बयान पर क्या कहा

आमिर के इन्टोलेरेंस वाले मामले पर मुकेश खन्ना ने कहा,”आप जिनकी बात कर रहे हैं उन्होंने कह दिया है कुछ, आप जिनकी (Aamir Khan) बात कर रहे हैं। अब हमें उसपर रिएक्शन इसलिए दिख रहा है। क्योंकि यह हिन्दू सम्प्रदाय की तरफ से “पहली बार” रिएक्शन आ रहे हैं। हम इसकी फिल्म को रिलीज़ नहीं होने देंगे, क्योंकि इन्होने कहा था हमारे देश (भारत) में रहना अच्छा नहीं है। अगर आप एक अभिनेता हैं तो आपको अपने बयानों के प्रति बहुत सजग रहना होगा। एक्टर का कोई धर्म नहीं होता है वो दिलीप कुमार होकर “हे राम” कहता है और हम भी जब मुसलमान का रोल करते हैं तो नमाज वगैरह सब सीखना पड़ता है। अगर कोई बड़ा स्टार जिसका इतना बड़ा नाम है वो अगर ऐसी बात बोले की इस देश में उसे खतरा लगता है तब अगर दूसरा ये बोले की फिर जाओ न दूसरे देश में रहो जाकर, तो यह जायज है।”

#boycottlaalsinghchaddha पर मुकेश खन्ना का बयान

हालंकि मुकेश खन्ना ने बॉयकॉट पर चुप्पी साधना सही समझा लेकिन बातों बातों में उन्होंने यह इशारा कर दिया की जो हो रहा है वो जायज है। मुकेश खन्ना ने ये भी कहा की कुछ लोग पब्लिसिटी पाने के लिए नेगेटिव कैम्पेन भी चलाते हैं। इसके अलावा अंत में मुकेश खन्ना ने कहा, “बाकी अभिव्यक्ति की आजादी सबके पास है वो जो चाहे करे। क्या अभिव्यक्ति की आजादी सिर्फ मुस्लिमों के पास है, हिन्दुओं के पास नहीं है।”

Advertisement
Advertisement
Advertisement