झारखंड में भी ‘तांडव’ के निर्देशक, कलाकारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

भाजपा (BJP) ने बुधवार को रांची में वेब श्रृंखला ‘तांडव’ (Tandav Web Series) के निर्देशक और कलाकारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई। भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के उपाध्यक्ष सूर्य प्रभात ने बुधवार को रांची के अरगोड़ा पुलिस स्टेशन में ‘तांडव’ के निर्देशक अली अब्बास जफर और वेब श्रृंखला के पूरे स्टार कास्ट के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज करवाई।

आईएएनएस Written by: January 20, 2021 6:43 pm
tandav 2

रांची। भाजपा ने बुधवार को रांची में वेब श्रृंखला ‘तांडव’ के निर्देशक और कलाकारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करवाई। भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के उपाध्यक्ष सूर्य प्रभात ने बुधवार को रांची के अरगोड़ा पुलिस स्टेशन में ‘तांडव’ के निर्देशक अली अब्बास जफर और वेब श्रृंखला के पूरे स्टार कास्ट के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज करवाई।

tandav

एफआईआर में कहा गया है, “वेब श्रृंखला के माध्यम से संवैधानिक मानदंडों का उल्लंघन किया गया है। यह देश में सांप्रदायिक सद्भाव में गड़बड़ी पैदा करने का एक जानबूझकर किया गया प्रयास है। मनोरंजन के नाम पर ऐसी चीजों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।”

प्राथमिकी दर्ज करते समय बड़ी संख्या में भाजयुमो कार्यकर्ता उपस्थित थे। भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने ‘तांडव’ श्रृंखला के खिलाफ नारेबाजी भी की।

मुम्बई के घाटकोपर पुलिस स्टेशन में भी तांडव वेब सीरीज के खिलाफ एक FIR दर्ज

विवादित वेब सीरीज तांडव को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है। जहां उत्तर प्रदेश में में इस सीरीज को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई वहीं अब महाराष्ट्र में भी इस सीरीज पर संकट के बादल छा गए हैं। बता दें कि एक तरफ उत्तर प्रदेश में तांडव के खिलाफ FIR दर्ज हुई तो इस पर कार्रवाई को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस के चार पुलिसकर्मी मुंबई पहुंचे हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ जांच टीम के सदस्य अनिल कुमार सिंह और दयाशंकर दुबे मुंबई पुलिस से इजाजत लेने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात की। बता दें कि यूपी पुलिस के इस कदम के बीच अब महाराष्ट्र में भी इस सीरीज को लेकर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। सामने आ रही खबरों की मानें तो मुम्बई के घाटकोपर पुलिस स्टेशन में वेब सीरीज तांडव को लेकर शिकायत दर्ज हुई है। IPC की धारा 153 (A) 295 (A) 505 IPC के तहत निर्माता, निर्देशक और कलाकारों के खिलाफ हुआ मामला हुआ दर्ज हुआ है।

Anil Deshmukh HM Maharashtra

वहीं वैसे इस पूरे विवाद पर मीडिया से बात करते हुए यूपी के ADG प्रशांत कुमार ने साफ तौर पर कहा कि किसी को भी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का हक नहीं है। इस मामले में उन्होंने जांच की बात कहते हुए प्रशांत कुमार ने कहा कि, इस मामले में जांच के बाद ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचा जाएगा।

उन्होंने कहा कि, इस सीरीज पर अलग-अलग जगहों पर दर्ज FIR में कुछ लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए हैं। हमारी पुलिस इस मामले की जांच करने, मामले की तथ्यात्मक विवेचना करने गई है। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि इस मामले में किसी भी शख्स के साथ ज्यादती नहीं होगी ना ही कोई हरासमेंट किया जाएगा लेकिन अगर कोई किसी की भावनाओं के साथ खेलने की कोशिश करेगा तो ये होने नहीं दिया जाएगा। ऐसे में हमारी जो टीम गई है वह पूरे मामले की जांच कर रिपोर्ट देगी।

‘तांडव’ पर एफआईआर दर्ज, सरकार हुई सख्त, प्रसारण मंत्रालय ने नोटिस जारी कर Amazon से मांगा जवाब

सैफ अली खान की हाल ही में रीलीज हुई वेब सीरीज ‘तांडव’ (Tandav) विवादों में घिरी है। इस सीरीज पर आरोप है कि इसमें हिंदू देवी देवताओं का अपमान किया गया है। जिसे लेकर सोशल मीडिया पर इसे बैन करने की मांग उठी। वहीं, बीजेपी नेताओं ने भी ऐसी बेव सीरीज बैन करने की मांग की जिसमें हिंदू धर्म का अपमान होता है। ऐसे में इस मामले पर सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (Ministry of Information and Broadcasting) ने शिकायतों को गंभीरता से लिया। इस वेब सीरीज पर हो रहे विवाद पर मंत्रालय ने अमेजन प्राइम वीडियो से जवाब मांगा है।

tandav

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अमेजान प्राइम को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है। अमेजान प्राइम वीडियो ने जारी किया है, इस नाते संबंधित प्लेटफॉर्म से जवाब तलब हुआ है। वेब सीरीज को लेकर आने वाली शिकायतों पर मंत्रालय बेहद गंभीर है। दरअसल, सैफ अली खान की वेब सीरीज ‘तांडव’ पर धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगा है। इसको लेकर पुलिस में भी शिकायतें दर्ज हुई हैं।
शिकायतों के मुताबिक, अली अब्बास जफर के निर्देशन में बनी इस वेब सीरीज में भगवान शिव और भगवान राम का अपमान किया गया है। इस वेब सीरीज को बैन करने की मांग चल रही है। वेब सीरीज के कंटेंट को लेकर आ रही शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने रविवार को अमेजान प्राइम वीडियो से स्पष्टीकरण मांगा है। अमेजान से सभी शिकायतों और आरोपों पर जवाब मांगा गया है। संतोषजनक जवाब न होने पर अमेजान प्राइम और वेब सीरीज के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

नोएडा में भी वेब सीरीज ‘तांडव’ के खिलाफ FIR दर्ज

नोएडा में भी ‘तांडव’ के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर (Noida FIR) दर्ज की है। दरअसल, ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा थाने में एफआईआर दर्ज हुई है। रबूपुरा थाने में वेब सीरीज के खिलाफ ये एफआईआर इसलिए दर्ज की गई है क्योंकि इसमें पुलिस की गलत छवि दिखाने का आरोप है। साथ ही धार्मिक भावनाओं को आहत करने का भी आरोप है। सीरीज के निर्देशक अली अब्बास, लेखक हिमांशु कृष्ण मेहरा और गौरव सोलंकी, एक्टर सैफ अली खान, डिंपल कपाड़िया, सुनील ग्रोवर और अमेजॉन प्राइम इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित का नाम इसमें शामिल है।

tandav boycott

इस बारे में ग्रेटर नोएडा के डीसीपी राजेश कुमार सिंह ने बताया कि थाना रबूपुरा में एक स्थानीय व्यक्ति ने वेब सीरीज तांडव में दिखाए गए दलित अपमान, जातिगत विद्वेष की भावना, धार्मिक भावना भड़काने और उच्च संवैधानिक पदों पर आसीन व्यक्तियों द्वारा गलत वार्तालाप करना दिखाए जाने को लेकर मामला दर्ज कराया है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost