Connect with us

मनोरंजन

Laal Singh Chaddha Review: भारत विरोधी फिल्म बनाना Aamir Khan को पड़ा महंगा, अब लोग ऐसे उड़ा रहे जबरदस्त मजाक

Laal Singh Chaddha Review: भारत विरोधी फिल्म बनाना Aamir Khan को पड़ा महंगा, अब लोग ऐसे उड़ा रहे जबरदस्त मजाक ट्रेड एनालिस्ट तरन आदर्श ने भी फिल्म को नापसंद किया है। यहां हम आपको फिल्म के बारे में लोगों की क्या राय है वो बताने का प्रयास करेंगे।

Published

on

नई दिल्ली। आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा रिलीज़ हो गयी है। लेकिन फिल्म दर्शकों को उतना पसंद नहीं आ रही है। ज्यादातर फिल्म के रिव्यू ख़राब ही आ रहे हैं। बहुत कम संख्या में ही लोग फिल्म की तारीफ कर रहे हैं। यहां तक बड़े से बड़े दिग्गज भी फिल्म को नापसंद कर रहे हैं। फिल्म है भी कुछ ऐसी ही। जो एक बार फिर से दर्शकों की भावनाओं का मजाक उड़ाती है। जो एक बार फिर फिल्म के माध्यम से कुछ भी कहना का प्रयत्न करती है। जिसमें शुरुआत से लेकर अंत तक दर्शक समझ ही नहीं पाते हैं की आखिर फिल्म कहना क्या चाहती है। ट्रेड एनालिस्ट तरन आदर्श ने भी फिल्म को नापसंद किया है। यहां हम आपको फिल्म के बारे में लोगों की क्या राय है वो बताने का प्रयास करेंगे।

आपको बतादें आज यूट्यूब पर रिव्यू के हिसाब से फिल्में चलती हैं और फ्लॉप होती हैं। ऐसे में यूट्यूब पर बड़े से बड़े रिव्यूवर भी फिल्म को फ्लॉप बता रहे हैं और वो फिल्म को बिल्कुल भी पसंद नहीं कर रहे हैं। मुंबई में रहने वाले वाले बॉबी भाई कई वर्षों से फिल्मों का रिव्यू करते आये हैं। जब उनसे इस फिल्म के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया,”थिएटर में सिर्फ तीन लोग थे और उन्होंने आमिर खान से सवाल किया कि, आपने ये कोई फिल्म बनाई है या कोई न्यूज़ बनाई है। आप कुछ भी फिल्म में डाल रहे हैं। ये कैसी फिल्म बनाई है। उन्होंने आगे कहा “इतनी बेकार फिल्म बनाई है तो थिएटर में एक एम्बुलेंस भी लगाओ, जिससे फिल्म देखकर किसी को हार्ट अटैक आये, तो उसका इलाज हो सके।

मशहूर यूट्यूबर सूरज कुमार जिन्होंने रिव्यू देकर ही यूट्यूब पर अपनी एक दुनिया बनाई है। बड़े बड़े स्टार का उन्होंने इंटरव्यू लिया है। चाहे वो आर माधवन हों या फिर केजीएफ वाले विजय, सभी से वो मिल चुके हैं। उन्होंने भी इस फिल्म को सिरे से नकार दिया है और उन्होंने सीधे इस फिल्म को बॉयकॉट करने की बात कही है। आगे उन्होंने कहा है की इससे बेहतर है की आमिर खान चड्ढी बनाने का धंधा कर लेते बजाय चड्ढा फिल्म बनाने के। उन्होंने बताया पूरी फिल्म में इमोशन आतंकवादी की छवि को सुधारने के लिए डाल दिया गया है। किसी तरह से आमिर खान चाहते हैं की उस आतंकवादी की छवि सुधर जाए। आगे वो कहते हैं की अब इस फिल्म को देखने के बाद वो आमिर खान को कतई माफ़ नहीं करेंगे।

विवेक रंजन अग्निहोत्री का रिव्यू करने वाले राष्ट्रवादी समीक्षक प्रतीक बोराडे ने भी फिल्म को सिरे से नकार दिया है और उन्होंने भी फिल्म में एक बार फिर से देशविरोधी कंटेंट दिखाने की और इशारा किया है। वो कहते हैं,“कुल मिलाकर लाल सिंह चड्ढा हर तरफ से दर्शकों को निराश करती है।”

फ़िल्मी इंडियन नाम से मशहूर चैनल के माध्यम से भी फिल्म को आमिर खान की बेहद खराब फिल्म बोली गयी है। जिसमें न ही इमोशन है और न ही कहानी है। उन्होंने आमिर खान की एक्टिंग को भी खराब बताया है। वो कहती हैं की, आमिर से अच्छा काम तो उस बच्चे ने किया है। इसके अलावा फिल्म में संवाद भी इमोशनल करने वाले नहीं है। फिल्म काफी लम्बी है। उन्होंने बताया की मेकर्स ने, फिल्म में खुद के राजनीतिक विचार भी दिखाने की कोशिश करी है।

इसको लेकर यूजर्स ने भी मज़ेदार कमेंट किये हैं, एक यूजर ने कहा – जब वो फिल्म देखने गए तब थिएटर में सिर्फ 3 लोग ही थे। इसके अलावा एक यूजर्स ने बताया है की इस तरह की फिल्में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम खराब कर रही हैं। एक दर्शक ने तो बताया की उन्होंने अकेले ही इस फिल्म को थिएटर में बैठकर देखा क्योंकि फिल्म देखने के लिए दर्शक ही नहीं थे। एक यूजर ने तो इस फिल्म को बिल्कुल भी न देखने की दर्शकों से गुजारिश की है।

 

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement