Connect with us

मनोरंजन

Suniel Shetty: सुनील शेट्टी की फिल्म ‘फाइल नंबर 323’ के खिलाफ नोटिस जारी, पार्थ रावल ने कहा-‘जिन लोगों ने आम भारतीयों का पैसा लूटा है वो हमें’….

Suniel Shetty: दरअसल, यह फिल्म उन अपराधियों की कहानी के बारे में है जिन्होंने भारत देश के साथ गद्दारी की है। भारत में घपला करके आम जनता का पैसा लूटकर विदेश भाग गए हैं। इन अपराधियों में विजय माल्या, नीरव मोदी जैसे नाम शामिल हैं। अब बिजनसमैन मेहुल चौकसी ने इस फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है। 

Published

नई दिल्ली। आज कल कोई फिल्म आए और उसका विरोध ना हो ऐसा हो ही नहीं सकता है। आज कल कोई फिल्म आई तो कभी उसको लोग बॉयकॉट करना शुरू कर देंगे नहीं तो उस फिल्म के खिलाफ नोटिस जारी हो जाता है। ऐसा ही अब कुछ सुनील शेट्टी और अनुराग कश्यप के साथ हुआ है। बॉलीवुड अभिनेता सुनील शेट्टी और अनुराग कश्यप स्टारर फिल्म फाइल नंबर 323 विवादों के घेरे में दिखाई दे रही है। दरअसल, यह फिल्म उन अपराधियों की कहानी के बारे में है जिन्होंने भारत देश के साथ गद्दारी की है। भारत में घपला करके आम जनता का पैसा लूटकर विदेश भाग गए हैं। इन अपराधियों में विजय माल्या, नीरव मोदी जैसे नाम शामिल हैं। अब बिजनसमैन मेहुल चौकसी ने इस फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है।

विवादों के घेरे में फिल्म ‘फाइल नंबर 323’

सुनील शेट्टी और अनुराग कश्यप स्टारर ‘फाइल नंबर 323’ अभी से ही विवादों में फंसती नजर आ रही है। ये फिल्म उन अपराधियों की कहानी बयां करती है, जो भारत में घपला करके आम जनता का पैसा खाकर विदेश भाग गए हैं। इन अपराधियों में विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे नाम शामिल हैं। अब बिजनसमैन मेहुल चोकसी ने इस फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है। उन्होंने मेकर्स के खिलाफ नोटिस जारी किया और माफी मांगने की डिमांड की है। वहीं, मेकर्स का भी कहना है कि वो इस नोटिस का जल्द ही कानूनी जवाब देंगे। उन्होंने दावा किया है कि ये फिल्म किसी की बायोपिक नहीं है।

पार्थ रावल ने दिया जवाब

मेहुल चौकसी द्वारा भेजा गई नोटिस में कहा गया है कि इस फाइल नंबर 323 को किसी भी प्लेटफॉर्म फिर चाहे ओटीटी हो या टीवी सीरिज, मोसन पिक्चर या फिर डॉयक्यूमेंट्री हो। इसे जल्द से जल्द रोक दिया जाए। वहीं इस फिल्म के मेकर्स का कहना है कि यह फिल्म मेहुल चौकसी पर आधारित नहीं है और ना हि उनके मानहानि का दावे भी गलत है। पार्थ रावल का कहना है कि, ‘जिन लोगों ने आम भारतीयों का पैसा लूटा है, भारत सरकार और अधिकारियों से फरार हैं, विदेश में छिपे हुए हैं, वो हमें नोटिस भेज रहे हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement