Payal Ghosh Case : अनुराग कश्यप की नहीं हुई गिरफ्तारी तो हम करेंगे प्रदर्शन- रामदास आठवले

Payal Ghosh Case : बॉलीवुड निर्देशक अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) पर यौन उत्पीड़न (sexual exploitation) का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष (Payal Ghosh) ने रामदास अठावले (Ramdas Athawale) के साथ मिलकर प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

Avatar Written by: September 29, 2020 2:11 pm
payal ghosh athavale

नई दिल्ली। बॉलीवुड निर्देशक अनुराग कश्यप (Anurag Kashyap) पर यौन उत्पीड़न (sexual exploitation) का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष (Payal Ghosh) सोमवार को केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले से मिलीं। उन्होंने पायल को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया था। अब मंगलवार को पायल घोष और रामदास अठावले (Ramdas Athawale) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

payal ghosh athavale

एक्ट्रेस पायल घोष ने कहा, ”मेरे साथ जो हुआ वो किसी और के साथ ना हो। मैं जैसे डर गई थी वैसे अगर किसी के साथ गलत हो रहा है तो वो बिना डरे शिकायत करें।”

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने कहा, ”वो कब गिरफ्तार होंगे वो पुलिस को मालूम है। अगर पुलिस अनुराग कश्यप को गिरफ्तार नहीं करती है तो हम प्रदर्शन करेंगे। पायल ने जो शिकायत दर्ज कराई है, हमारा मानना है वो सही है। इस मामले में अनुराग कश्यप पर कार्रवाई होनी चाहिए। एक दो दिन में हमारा डेलिगेशन गृह मंत्री अनिल देशमुख से मिलेगा। अनुराग कश्यप मुंबई में हैं वो कही भागकर नहीं गए हैं। अभी तक उन्हें स्टेटमेंट के लिए बुलाना चाहिए था। लेकिन अभी तक पुलिस ने उन्हें नहीं बुलाया है। पुलिस मामले में क्यों देर कर रही है ये मेरा उनसे सवाल है।”

payal ghosh

इसके अलावा उन्होंने आगे कहा, ”अनुराग को जल्द गिरफ्तार किया जाना चाहिए। हम सात दिन का अल्टीमेटम देते हैं अगर उनकी गिरफ्तरी नहीं हुई तो हम पूरे मुंबई में प्रदर्शन करेंगे। मैं इस पूरे मामले में गृह मंत्री अमित शाह को भी चिट्ठी लिखूंगा। मेरी पार्टी पायल घोष का पूरी तरह से समर्थन करती है।”

tweet Payal ghosh And Anurag Kashyap Congress

आपको बता दें कि पिछले सप्ताह पायल घोष ने वर्सोवा पुलिस स्टेशन में अनुराग कश्यप के खिलाफ प्रथामिकी दर्ज कराया था, जहां उन्होंने निर्देशक पर आरोप लगाया कि 2014 में उनके साथ यौन शोषण का प्रयास किया गया। हालांकि अनुराग ने अपने ऊपर लगाए गए आरोपों का खंडन किया है।