Connect with us

मनोरंजन

Hindutva Movie: Hindutva फिल्म के निर्देशक ने क्यों कहा,”हिंदुत्व को मैला किया जा रहा है” 7 अक्टूबर को रिलीज़ होगी फिल्म हिंदुत्व

Hindutva Movie: Hindutva फिल्म के निर्देशक ने क्यों कहा,”हिंदुत्व को मैला किया जा रहा है” 7 अक्टूबर को रिलीज़ होगी फिल्म हिंदुत्व ऐसे में इस फिल्म की मार्केटिंग काफी तेज़ी से चल रही है। फिल्म को प्रमोट करने के लिए इस फिल्म के डायरेक्टर अपनी पूरी टीम के साथ नई दिल्ली पहुंचे जहां उन्होंने प्रेस के सवालों का जवाब दिया। ऐसे में NewsroomPost के सवालों का जवाब भी मेकर्स ने दिया है।

Published

on

नई दिल्ली। हिंदुत्व (Hindutva) फिल्म 7 अक्टूबर को रिलीज़ की तैयारी में है। पहली बार ऐसी एक फिल्म आ रही है जो पूरी तरह से हिन्दू पर केंद्रित है। जिसका नाम ही हिंदुत्व है। ऐसे में ऐसी फिल्म को लाना ऐसे टाइटल की फिल्म को लाना काफी साहस का काम है। हिंदुत्व की टीम और उसके डायरेक्टर इस फिल्म को 7 अक्टूबर को रिलीज़ करने वाले हैं। इस फिल्म को किसी बड़े प्रोडक्शन हाउस के बैनर तले बनाया तो नहीं जा रहा है लेकिन जो भी दर्शक इस फिल्म के ट्रेलर को देख रहा है। वो फिल्म को भी देखने की बात कर रहा है। ऐसे में इस फिल्म की मार्केटिंग काफी तेज़ी से चल रही है। फिल्म को प्रमोट करने के लिए इस फिल्म के डायरेक्टर अपनी पूरी टीम के साथ नई दिल्ली पहुंचे जहां उन्होंने प्रेस के सवालों का जवाब दिया। ऐसे में NewsroomPost के सवालों का जवाब भी मेकर्स ने दिया है।

इस फिल्म को निर्देशक करण राजदान (Karan Razdan) डायरेक्ट कर रहे हैं। इसके अलावा फिल्म में आशीष शर्मा (Aashiesh Sharma), सोनारिका भदौरिया (Sonarika Bhadoria) और अंकित राज (Ankit Raj) मुख्य भूमिका में हैं। आशीष शर्मा को आपने सिया के राम सीरियल में राम का किरदार निभाते देखा होगा। इसके अलावा सोनारिका ने भी देवों के देव महादेव सीरियल में पार्वती का किरदार निभाया है। फिल्म की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान डायरेक्टर करण राज़दान से कई तरह के सवाल किए गए जिनमें से NewsroomPost ने पूछा। जब डायरेक्टर से सवाल किया गया कि आखिर आज के दौर में इस तरह की फिल्म को लाने की जरूरत क्या पड़ी इस पर करण राजदान ने कहा –
” मुझे जरूरत यूं पड़ी क्योंकि मैंने देखा कि हिंदुत्व शब्द को मैला किया जा रहा है। न हमने कोई ट्विन टावर गिराया, न किसी का अपमान किया, न किसी का धर्म परिवर्तन किया उसके बावजूद हिन्दू आतंकवाद का शब्द निकला। जिससे तकलीफ होती है। हिंदुत्व को देश-विदेश में बदनाम करने की भी कोशिश की गई। मैंने कई सारे फिल्म और टेलीविजन शो बनाए हैं लेकिन ये फिल्म नहीं है ये मेरे दिल से निकली भड़ास है। मेरा गुस्सा है। आप कैसे हमारे सनातन का अपमान कर सकते हैं। जिसने हमें वेद दिए, पुराण दिए, गीता दिया, योग दिया, ध्यान दिया ऐसे धर्म को आप मजाक कैसे कर सकते हैं।”

इस फिल्म के लीड कलाकार आशीष शर्मा ने कहा,“जरूरत तो गर्म हवा की भी नहीं थी और मुगले आजम की भी नहीं थी फिर आखिर क्यों जब हिंदुत्व या कश्मीर फ़ाइल जैसे फिल्म बनती है तब आवश्यकता पूछी जाती है। सवाल तब पूछा जाना चाहिए जब यूनिवर्सिटी से आजादी के नारे लगते हैं। आखिर किस चीज़ से आपको आजादी चाहिए। जिस मुल्क में आप आजाद 1947 से रह रहे हैं फिर किस बात की आजादी आपको चाहिए। और अगर आपको बोलने की स्वंत्रता के अधिकार पर आजादी के नारे लगाने का अधिकार है तो हमें भी हिंदुत्व फिल्म बनाने का पूर्ण अधिकार है।”

इसके बाद जब करण राजदान से पूछा गया कि क्या 2014 से पहले ऐसी फिल्म को बना पाना सम्भव था या उन्होंने इससे पहले ऐसी फिल्म बनाने का प्रयास क्यों नहीं किया जिस पर करण ने बताया कि अगर इससे पहले वो इस प्रकार की फिल्म लाते तो उनका पैसा भी डूब जाता और ये फिल्म को बैन कर दिया जाता। उन्होंने मौजूदा सरकार को सराहा कि काश ऐसे वक़्त में वो अपनी हिंदुत्व की बात कह तो पा रहे हैं। हिंदुत्व फिल्म की स्टारकास्ट ने सभी सवालों के जवाब दिए और दर्शकों से फिल्म देखने की अपील भी की।

Advertisement
Advertisement
Advertisement