Connect with us

देश

Mohammed Zubair Arrest: 9 महीने पुराना ट्वीट बना जुबैर के गले की फांस, पहुंचाकर रख दिया सलाखों के पीछे, जानें ऐसा क्या था लिखा

Mohammed Zubair Arrest: जिसमें उसने जुबैर द्वारा हिंदू देवी देवताओं के संदर्भ में की गई विवादित टिप्पणी का उल्लेख किया था। शिकायकर्ता ने अक्टूबर 2021 में ट्विटर अकाउंट बनाया था। जिसमें जुबैर द्वारा हिंदू धर्म के संदर्म में की गई अभद्र टिप्पणियों का जिक्र कर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है। बता दें कि जुबैर के खिलाफ शिकायत करने वाले ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जय बाला जी महाराज लिखा है।

Published

on

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने सोमवार को हिंदू देवी देवताओं के संदर्भ में आपत्तिजनक ट्वीट करने के आरोप में ऑल्ट न्यूज़ के को-फाउंडर मोहम्मद जुबैर को गिरफ्तार किया है। जुबैर पर आरोप है कि उसने धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक ट्वीटर यूजर की शिकायत पर जुबैर के खिलाफ उक्त कार्रवाई की गई है। बता दें कि शिकायतकर्ता ने आज से 9 माह पूर्व जुबैर द्वारा किए गए ट्वीट की प्रतिक्रिया में तीन ट्वीट किए थे, जिस पर संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस ने एक्शन लिया और जुबैर आज सलाखों के पीछे पहुंच गया। शिकायतकर्ता ने हनुमान भक्त के नाम से ट्विटर अकाउंट बनाया हुआ है। जिसमें उसने जुबैर द्वारा हिंदू देवी देवताओं के संदर्भ में की गई विवादित टिप्पणी का उल्लेख किया था। शिकायकर्ता ने अक्टूबर 2021 में ट्विटर अकाउंट बनाया था। जिसमें जुबैर द्वारा हिंदू धर्म के संदर्भ में की गई अभद्र टिप्पणियों का जिक्र कर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की गई है। बता दें कि जुबैर के खिलाफ शिकायत करने वाले ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जय बाला जी महाराज लिखा है। जिसकी लोकेशन राजस्थान की बताई जा रही है। इसे 46 लोगों द्वारा फॉलो किया जा रहा है, जिसमें अरविंद केजरीवाल, उमर अब्‍दुल्‍ला, सीताराम येचुरी, दिग्विजय सिंह, आम आदमी पार्टी, राष्‍ट्रीय जनता दल, अशोक गहलोत, महुआ मोइत्रा, असदुद्दीन ओवैसी, तेजस्‍वी यादव, पी चिदंबरम समेत कुछ मीडिया संस्थान भी शामिल है।

फैक्ट चेकर जुबैर की गिरफ्तारी पर उठे सवाल, क्या दिल्ली पुलिस ने की नियमों की अनदेखी? - Fact checker Zubair arrested for inciting religious sentiments what are rules related to arresting ...

आपको बता दें कि हनुमान भक्त ने अपन ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि आप इस व्यक्ति के संदर्भ में क्या कहना चाहेंगे। यह व्यक्ति खुलेतौर पर हमारे हिंदू देवी-देवताओं के बारे में अभद्र टिप्पणी कर रहा है। फिलहाल  इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। अब ऐसे में देखना होगा कि जांच के उपरांत क्या कुछ कार्रवाई की जाती है। उधर, पुलिस के मुताबिक, जुबैर से पूछताछ की गई है। लेकिन, अभी तक वो किसी भी विषय पर समुचित जानकारी नहीं दे पा रहा था, तो उसे संदेह के आधार पर गिरफ्तार किया गया है।

वहीं, जुबैर के पक्ष में सियासी बिरादरी की तरफ से भी आवाज उठना शुरू हो चुकी है। कांग्रेस समेत अन्य दल खुलकर जुबैर की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे हैं। वे जुबैर की गिरफ्तारी को गलत बता रहे हैं, जिसकी शुरुआत सबसे पहले कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने की है, जिसमें उन्होंने कहा कि, ‘भाजपा की नफरत, कट्टरता और झूठ को उजागर करने वाला प्रत्येक व्यक्ति उनके लिए खतरा है। सत्य की एक आवाज को गिरफ्तार करने से केवल एक हजार लोगों को जन्म मिलेगा। सत्य हमेशा अत्याचार पर विजय प्राप्त करता है।’ उधर, एआईएमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी ने जुबैर की गिरफ्तारी के संदर्भ में कहा कि,  ‘दिल्ली पुलिस मुस्लिम विरोधी नरसंहार के नारों के बारे में कुछ नहीं करती है, लेकिन अभद्र भाषा की रिपोर्ट करने और गलत सूचना का मुकाबला करने के अपराध के खिलाफ तेजी से कार्य करती है।’

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement