Gujarat: BJP सांसद के परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़, मोरबी हादसे में सांसद के 12 रिश्तेदारों की मौत, जानें उन्होंने क्या कहा

Gujarat: मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस हादसे के बाद सैकड़ों लोग मौत के गाल में समा चुके हैं। इस हादसे पर हर कोई दुख व्यक्त कर रहा है। बीते रविवार को ही पीएम मोदी ने सीएम भूपेंद्र पटेल से फोन पर उक्त हादसे के संदर्भ में वार्ता की थी और राहत एवं बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए थे। बता दें कि पीएम गुजरात के लिए रवाना हो चुके हैं।

सचिन कुमार Written by: October 31, 2022 2:40 pm
Morbi

नई दिल्ली। गुजरात के मोरबी जिले में उस वक्त कोहराम मच गया, जब छठ पूजा के उत्सव के बीच मच्छ नदी पर बना केबल पूल लोगों के अधिक भार की वजह से टूट गया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पुल टूटने से 400 से 500 लोग नदी में समा गए। इस पूरे वाकये का वीडियो भी प्रकाश में आया है, जिसमें साफ देखा जा सकता है कि कैसे लोग नदी से बाहर निकलने की जदोजहद में मसरूफ हैं। हालांकि, नदी में फंसे लोगों को बचाने की दिशा में राहत एवं बचाव कार्य युद्ध स्तर पर जारी हैं। अब तक कई लोगों को बचाया भी जा चुका है, लेकिन अभी-भी लोगों को बचाने का सिलसिला जारी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस हादसे के बाद सैकड़ों लोग मौत के गाल में समा चुके हैं। इस हादसे पर हर कोई दुख व्यक्त कर रहा है। बीते रविवार को ही पीएम मोदी ने सीएम भूपेंद्र पटेल से फोन पर उक्त हादसे के संदर्भ में वार्ता की थी और राहत एवं बचाव कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए थे। बता दें कि पीएम गुजरात के लिए रवाना हो चुके हैं। शासन की तरफ से साफ निर्देश दिए जा चुके हैं कि जिस किसी की भी लापरवाही से यह हादसा हुआ है, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि अब तक कई लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है। बहरहाल, अब यह पूरा माजरा आगामी दिनों में क्या रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी, लेकिन उससे पहले आप यह जान लीजिए कि इस पूरे मामले को लेकर एक बेहद ही दुखद खबर प्रकाश में आई है।

BJP सांसद के 12 रिश्तेदारों की मौत, कहा- गलती करने वाला बचेगा नहीं | TV9  Bharatvarsh

 

दरअसल, खबर है कि इस हादसे में बीजेपी सांसद मोहन भाई कुंदरिया के 12 रिश्तेदारों की मौत हो गई। जिसमें उनके जीजा, भाई की 4 बेटियों, 3 जमाई और 5 बच्चों की मौत हुई है। यह घटना बेहद ही दुखद है। उनके परिवार पर अभी दुखों का पहाड़ टूटा हुआ है। प्रदेश के कई बड़े नेताओं ने उनके परिजनों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं। उधर, मोहन भाई कंदरिया ने साफ कर दिया है कि जो कोई भी इस मामले में दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सकें कि निकट भविष्य में कभी ऐसे हदासों की पुनरावृत्ति ना हो सकें।

Latest