PM In America: वाशिंगटन पहुंचे PM मोदी का जबरदस्त स्वागत, जानें कैसा रहेगा शेड्यूल

PM In America: कोरोना के कहर से दुनियाभर के मुल्क अपनी अर्थव्यवस्था की गाड़ी को पटरी पर लाने की कोशिशों के बीच पीएम मोदी के के इस अमेरिका दौरे पर सभी की निगाहें टिकी हुई है। दूसरी ओर पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान में में तालिबान के कब्जे के बाद अब इस अमेरिका दौरे का होने देशों को सोचने पर मजबूर कर रहा है।

Written by: September 23, 2021 8:45 am
pm modi

नई दिल्ली। अपने तीन दिन के दौरे के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंच गए हैं। जब गुरुवार सुबह पीएम मोदी वाशिंगटन पहुंचे तो वहां भारतीय समुदाय ने उनका ज़बरदस्त स्वागत किया। आज से ही पीएम मोदी की कई बैठकें शुरू होनी हैं जिसमें पहले दिन कई कंपनी के CEO से मुलाकात भी शामिल है। कोरोना संकट के बीच पहली बड़ी विदेश यात्रा पर निकले पीएम मोदी गुरुवार सुबह करीब साढ़े तीन बजे (भारतीय समयानुसार) वाशिंगटन पहुंचे। वाशिंगटन पहुंचते ही यहां मौजूद भारतीय समुदाय ने उनका बरदस्त स्वागत किया। इसके बाद खुद का गर्मजोशी से किए गए स्वागत का पीएम मोदी ने सभी का शुक्रिया किया, साथ ही ट्विटर पर तस्वीरें भी साझा की।


गुरुवार को ये रहेंगे PM मोदी के कार्यक्रम

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कई अहम मुलाकातें होनी हैं। इस दौरान पीएम कई कंपनी के CEO से मुलाकात करेंगे साथ ही ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन से भी पीएम मोदी की द्विपक्षीय वार्ता होगी।


भारतीय समयानुसार

7.15 PM- Qualcomm के CEO क्रिस्टियानो एमॉन से होगी मुलाकात।
7.35 PM- Adobe के चेयरमैन से मुलाकात।
7.55 PM- फर्स्ट सोलार के CEO मार्क विडमर से मुलाकात।
8.15 PM- General Atomics के सीईओ से मीटिंग।
8.35 PM- ब्लैकस्टोन सीईओ से मीटिंग।
11 PM- ऑस्ट्रेलियाई पीएम स्कॉट मॉरिसन से मीटिंग।

24 सितंबर शुक्रवार को…

12.45 AM- उपराष्ट्रपति कमला हैरिस से मुलाकात।
03.00 AM- जापानी पीएम से मीटिंग।


खास माना जा रहा पीएम का दौरा

इस तीन दिवसीय अमेरिका दौरे में अमेरिका की पहली महिला उप राष्ट्रपति कमला हैरिस के अलावा पीएम मोदी राष्ट्रपति बाइडन से भी मुलाकात करेंगे। भारत आजादी की 75वीं साल मना रहा है, ऐसे में 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी रिफॉर्म को लेकर स्पष्ट बात कर सकते हैं साथ ही यूएन (UN) में अपनी भागीदारी बढ़ाने और इसमें जरूरी बदलाव को लेकर पीएम मोदी अपना पक्ष रख सकते हैं। इसके अलावा कहा जा रहा है पीएम मोदी अफगानिस्तान की मौजूदा स्थिती के साथ ही पाकिस्तान से अफगान के गठजोड़ से जुड़ी चिंताओं पर भी बात रखेंगे। ऐसे में ये बैठक पाकिस्तान समेत अफगानिस्तान के लिए चिंता का विषय है।


PM मोदी के संबोधन पर दुनिया की नजरें

कोरोना के कहर से दुनियाभर के मुल्क अपनी अर्थव्यवस्था की गाड़ी को पटरी पर लाने की कोशिशों के बीच पीएम मोदी के के इस अमेरिका दौरे पर सभी की निगाहें टिकी हुई है। दूसरी ओर पड़ोसी मुल्क अफगानिस्तान में में तालिबान के कब्जे के बाद अब इस अमेरिका दौरे का होने देशों को सोचने पर मजबूर कर रहा है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost