Connect with us

देश

Gangster Raju Thehat Murder : आखिर कौन है वो लेडी डॉन, जिसने रची थी राजू ठेहट के मर्डर की साजिश? उसने 5 साल बाद ले ही लिया इस बात का बदला

Lady Don Anuradha : लॉरेंस और काला जठेड़ी गैंग ने मिलकर ही राजू ठेहट की हत्या करवाई है। कहा यह भी जा रहा है कि हत्या भले ही लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ी गैंग के गुर्गों ने की है, लेकिन असली खेल लेडी डॉन अनुराधा का ही है।

Published

जयपुर। राजस्थान में आज (शनिवार) दिनदहाड़े कुछ लोगों द्वारा कुख्यात गैंगस्टर राजू ठेहट की गोली मारकर सीकर में हत्या कर दी गई। इस घटना के बाद हत्या की जिम्मेदारी लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के एक सदस्य ने ली है। ठेहट जून 2017 में पुलिस मुठभेड़ में मारे गए गैंगस्टर आनंदपाल सिंह का प्रतिद्वंद्वी था। आनंदपाल की मौत के बाद उसकी गर्लफ्रेंड लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस और काला जठेड़ी से हाथ मिला लिया।

कई मीडिया रिपोर्ट में यह बात सामने आ रही है कि लॉरेंस और काला जठेड़ी गैंग ने मिलकर ही राजू ठेहट की हत्या करवाई है। कहा यह भी जा रहा है कि हत्या भले ही लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ी गैंग के गुर्गों ने की है, लेकिन असली खेल लेडी डॉन अनुराधा का ही है। सीकर के पुलिस अधीक्षक (एसपी) कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि राजू ठेहट की शनिवार सुबह करीब सवा 10 बजे उसके घर के मुख्य दरवाजे पर ही कुछ लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी। ठेहट के खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं और वह फिलहाल जमानत पर जेल से बाहर था। बताया जा रहा है कि लंबे वक्त से राजू ठेहट और लॉरेंस बिश्नोई गैंग के बीच रंजिश चली आ रही थी जिसके बाद घटना को अंजाम दिया गया है।

लॉरेंस बिश्नोई गिरोह ने ली इस हत्याकांड की जिम्मेदारी

घटना के तुरंत बाद खुद को लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का सदस्य बताने वाले रोहित गोदारा ने ठेहट की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए फेसबुक पर पर एक पोस्ट किया जिसमें रोहित गोदारा ने लिखा कि यह आनंदपाल सिंह और बलबीर बानूड़ा का बदला है। आनंदपाल गिरोह के सदस्य बलबीर की जुलाई 2014 में बीकानेर जेल में एक गैंगवॉर में मौत हो गई थी। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की तलाश की जा रही है। हरियाणा से लगती सीमा और झुंझुनू जिले की सीमा को तत्काल प्रभाव से सील कर दिया गया है।

gangster lawrence bishnoi

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई (फाइल फोटो)

आनंदपाल की मौत के बाद लेडी डॉन ने संभाली गिरोह की कमान

गौरतलब है कि इस वक्त गिरोह की बागडोर लेडी डॉन अनुराधा के हाथ में है। कुछ समय पहले अनुराधा ने अपने पति फैलिक्स दीपक मिंज के साथ सीकर में एक शेयर ट्रेडिंग शुरू किया था। शेयर बाजार में लाखों रुपए निवेश करने वाले लोगों ने घाटा होने पर जब अनुराधा पर दबाव बनाना शुरू किया, तो उसने कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल से हाथ मिला लिया था। इस बीच गैंगस्टर आनंदपाल और अनुराधा करीब आ गए। जून 2017 में पुलिस मुठभेड़ में गैंगस्टर आनंदपाल सिंह की मौत हो गई। जिसके बाद उसकी गर्लफ्रेंड लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस और काला जठेड़ी से एक दूसरे से दोस्ती का हाथ मिलाया था।

आपको बता दें कि कुछ समय पहले लेडी डॉन अनुराधा पर बड़ी गाज गिरी थी जब राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने अनुराधा को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में उसने भी कबूला कि आनंदपाल की मौत के बाद उसके गिरोह की कमान उसने ही संभाली ली थी. फिलहाल, अभी अनुराधा दिल्ली में लॉरेंस ग्रुप के गुर्गे के साथ रह रही थी। माना जा रहा है कि आनंदपाल की करीबी और उसके प्रतिद्वंद्वी राजू से बदला लेने के लिए लेडी डॉन अनुराधा ने लॉरेंस के गुर्गों से हत्या की हत्या की घटना को अंजाम दिया है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement