Maharashtra: पीएम मोदी और सीएम उद्धव ठाकरे की मुलाकात के बाद चढ़ा सियासी पारा, संजय राउत के बयान ने बढ़ाई बेचैनी

Maharashtra: संजय राउत ने आगे कहा कि शिवसेना का हमेशा से मानना रहा है कि प्रधानमंत्री पूरे देश के होते हैं, किसी एक पार्टी के नहीं। राउत ने कहा, लिहाजा, प्रधानमंत्री को चुनाव अभियान में शामिल नहीं होना चाहिये क्योंकि इससे आधिकारिक मशीनरी पर दबाव पड़ता है।

Avatar Written by: June 10, 2021 7:24 pm
Uddhav Thackarey

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच हाल ही में दिल्ली में हुई मुलाकात के बाद प्रदेश का सियासी पारा चढ़ गया है। इस मुलाकात के बाद जिस तेवर में सीएम उद्धव ठाकरे ने मीडिया के सामने जवाब दिया था उसने महाराष्ट्र के महा विकास अघाड़ी सरकार की परेशानी बढ़ा दी है। घटक दल इस बयानबाजी से परेशान नजर आ रहे हैं। वहीं महाराष्ट्र में सियासी हलचल भी तेज हो गई है। दरअसल पीएम मोदी और उद्धव ठाकरे के बीच की मुलाकात के बाद शरद पवार ने उन्हें बाला साहब ठाकरे की याद दिलाई है। शरद पवार ने इस सियासी हलचल पर बयान देते हुए कहा कि महाराष्‍ट्र की महाविकास अघाड़ी सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने सहयोगी दल शिवसेना की प्रशंसा करते हुए कहा कि उस पर भरोसा किया जा सकता है। एनसीपी के 22वें स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए शरद पवार ने यह भी कहा कि महाराष्ट्र विकास आघाड़ी (शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस) अगले विधानसभा और लोकसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करेगा। उन्होंने संकेत दिया कि तीनों दल 2024 में होने वाले चुनाव साथ में लड़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि संशय पैदा किया जा रहा है कि राज्य सरकार कितने समय तक चल पाएगी।

Sanjay Raut

पवार ने कहा, ‘‘लेकिन शिवसेना ऐसा दल है जिस पर भरोसा किया जा सकता है। बालासाहब ठाकरे ने इंदिरा गांधी के प्रति अपने वचन का सम्मान किया था। सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी और अगले लोकसभा तथा विधानसभा चुनावों में भी अच्छा प्रदर्शन करेगी।’’ पवार ने कहा, ‘‘हमने अलग-अलग विचारधाराओं वाले दलों की सरकार बनाई। हमने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन शिवसेना के साथ सरकार बनाएंगे क्योंकि हमने कभी मिलकर काम नहीं किया था। लेकिन अनुभव अच्छा है और तीनों दल कोविड-19 महामारी के दौरान मिलकर बेहतर काम कर रहे हैं।’’

uddhav thackeray and Sharad Pawar
इधर शिवसेना नेता संजय राउत से पूछा गया था कि मीडिया में खबरें आई हैं कि आरएसएस राज्यों के चुनावों में राज्य के नेताओं को चेहरे के रूप में पेश करने पर विचार कर रहा है। ऐसे में क्या उन्हें लगता है कि मोदी की लोकप्रियता कम हुई है। इस पर राउत ने जो बयान दिया अब उसने महा विकास अघाड़ी के भीतर हलचल पैदा कर दी है। पीएम मोदी की तारीफ करते हुए शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि मेरा मानना ​​है कि नरेंद्र मोदी देश और भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेता हैं। इस बात से कोई इनकार नहीं कर सकता कि पिछले 7 सालों में भारतीय जनता पार्टी को जो सफलता मिली है, वह सिर्फ नरेंद्र मोदी की वजह से है।

uddhav thackeray and sanjay raut

संजय राउत ने आगे कहा कि शिवसेना का हमेशा से मानना रहा है कि प्रधानमंत्री पूरे देश के होते हैं, किसी एक पार्टी के नहीं। राउत ने कहा, लिहाजा, प्रधानमंत्री को चुनाव अभियान में शामिल नहीं होना चाहिये क्योंकि इससे आधिकारिक मशीनरी पर दबाव पड़ता है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost