Connect with us

देश

Akhilesh Yadav: पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र की नदी को लेकर तंज कस रहे थे अखिलेश, लेकिन खुल गई झूठ की पोल और हो गई फजीहत

Akhilesh Yadav: पंजाब की संगरूर लोकसभा सीट से सांसद रहे भगवंत मान भी पंजाब विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करके मुख्यमंत्री बने हैं। उनके लोकसभा सीट से इस्तीफा देने के बाद अब इन्हीं सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। दो राज्यों की तीन लोकसभा सीटों पर जारी उप चुनाव के बीच अब सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव चर्चा में आ गए हैं।

Published

on

akhilesh yadav

नई दिल्ली। दो राज्यों की तीन लोकसभा सीटों पर आज उप चुनाव हो रहे हैं। यूपी की आजमगढ़ और रामपुर दोनों ही लोकसभा सीटों पर उपचुनाव है। आजमगढ़ से अखिलेश यादव तो वहीं, रामपुर से आजम खान ने फरवरी-मार्च में हुए विधानसभा चुनावों में जीत का विजय पताका लहराया था। इस जीत के बाद उन्होंने लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। इसके अलावा पंजाब की संगरूर लोकसभा सीट से सांसद रहे भगवंत मान भी पंजाब विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज करके मुख्यमंत्री बने हैं। उनके लोकसभा सीट से इस्तीफा देने के बाद अब इन्हीं सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। दो राज्यों की तीन लोकसभा सीटों पर जारी उप चुनाव के बीच अब सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव चर्चा में आ गए हैं।

Uttarakhand By Election.

दरअसल, सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने वाराणसी के वरुणा नदी की एक तस्वीर शेयर की थी जिसके सहारे वो भारतीय जनता पार्टी पर हमलावर होना चाहती थी लेकिन सपा प्रमुख अपने ही बिछाए जाल में फस गए। जी हां, मुलायम सिंह के लाल वरुणा नदी की जिस तस्वीर को शेयर कर भाजपा को घेरने की कोशिश करना चाहते थे वो उनके लिए ही मुसीबत बन गई है। बीजेपी के अलावा जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भी सपा प्रमुख के झूठे दावों की पोल खोल दी।

BJP And Akhilesh

क्या है उस तस्वीर में…

उत्तर प्रदेश की राजनीति में अहम स्थान रखने वाली समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा पर निशाना साधने के लिए वाराणसी के वरुणा नदी की एक तस्वीर अपने सोशल मीडिया अकाउंट से साझा की थी। इस तस्वीर में पूरी नदी पर जलकुंभी दिखाई दे रही थी। अखिलेश यादव ने इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा था, ‘वाराणसी में वरुणा नदी की दुर्दशा’। फिर क्या अखिलेश यादव के इस तस्वीर को शेयर करते ही जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया।

ऐसे खुली अखिलेश यादव के झूठ की पोल

हालांकि अखिलेश यादव के इस झूठ की पोल कुछ समय में ही खुल गई। अखिलेश यादव के इस पोस्ट के खिलाफ वाराणसी के जिला अधिकारी ने दो तस्वीर मीडिया को भेज कर सच को सामने ला दिया। जिला अधिकारी द्वारा उसी जगह की तस्वीर सोशल मीडिया पर शेयर की गई लेकिन फर्क बस इतना था कि तस्वीर में कही भी जलकुंभी नहीं दिखाई दी।

अब झूठी तस्वीर शेयर करने के मामले को लेकर सपा प्रमुख भाजपा के निशाने पर आ गए हैं। बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने तो सपा प्रमुख को आंखों पर चश्मा चढ़ाने की बात कहकर उन्हें आजमगढ़ पर नजर लगाने की नसीहत दे डाली है।

लोग ऐसे कर रहे हैं ट्विटर पर अखिलेश यादव की फजीहत

Advertisement
Advertisement
Advertisement