Video: बार-बार एजेंट कहे जाने पर तिलमिला उठे असदुद्दीन ओवैसी, सीएम योगी और अखिलेश से पूछा सवाल

कानपुर में हो रही बीजेपी की बूथ लेवल मीटिंग को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने ओवैसी को समाजवादी पार्टी का एजेंट बताते हुए माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया। इसके अलावा सीएम योगी ने कहा था कि अब्बाजान और चाचाजान वाले अगर माहौल बिगड़ने का काम करेंगे तो सरकार उनसे सख्ती से निपटना भी जानती है।

Written by: November 25, 2021 9:18 pm

नई दिल्ली: एआइएमआइएम के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रहे हैं। इसी सिलसिले में वे बृहस्पतिवार को जौनपुर पहुंचे थे। यहां पर ओवैसी ने एक सभा को संबोधित किया। अपनी सभा में ओवैसी ने सपा पर हमला किया तो बीजेपी पर भी प्रहार किया है। इस दौरान ओवैसी ने कहा, अखिलेश यादव और “बाबा”(योगी आदित्यनाथ) डिसाइड करें कि मैं किसका एजेंट हूँ।

दरअसल कानपुर में हो रही बीजेपी की बूथ लेवल मीटिंग को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने ओवैसी को समाजवादी पार्टी का एजेंट बताते हुए माहौल बिगाड़ने का आरोप लगाया। इसके अलावा सीएम योगी ने कहा था कि अब्बाजान और चाचाजान वाले अगर माहौल बिगड़ने का काम करेंगे तो सरकार उनसे सख्ती से निपटना भी जानती है। वहीं सपा के नेता भी बार-बार ओवैसी को बीजेपी का एजेंट बताते रहते हैं। इससे गुरूवार को ओवैसी भड़क गये।

दरअसल बार बार एजेंट कहें जाने पर तिलमिलाएं ओवैसी ने कहा कि योगी जी मुझे माहौल खराब करने वाला बताते हैं। कोई हमें भाजपा का एजेंट कहता है तो कोई कांग्रेस का। लेकिन, अखिलेश और बाबा मिलकर तय कर लें कि मैं किसका एजेंट हूं। इतना नहीं यहां ओवैसी ने कहा कि सीएए कानून धर्म के आधार पर बनाया गया गलत कानून है। हम इसका लोकतांत्रिक तरीके से विरोध करते हैं। जिस तरह से किसान कानून वापस लिए हैं, उसी तरह से सीएए को वापस लें।

इससे पहले सीएम सीएम योगी ने कहा था कि मैं चचाजान और अब्बाजान के अनुयायियों से कहूंगा कि वो सावधान होकर सुन लें, अगर प्रदेश की भावनाओं को भड़का कर माहौल खराब करोगे, तो फिर सख्ती के साथ सरकार निपटना जानती है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost