Kanjhawala Case: अंजलि के परिजनों ने की मामले की CBI जांच की मांग, नहीं है पुलिस पर भरोसा

Kanjhawala Case: पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है। डीसीपी हरेंद्र सिंह ने जिस तरह चिकित्सकीय परीक्षण के ही मालमे में यौन अपराध की बात को खारिज कर दिया था, उसे लेकर भी सवाल उठ रहे हैं कि आखिर कैसे बिना परीक्षण के ही पुलिस ने दावा कर दिया कि युवती के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ। वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पुष्टि हो चुकी है कि युवती के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है।

सचिन कुमार Written by: January 4, 2023 9:09 pm
Kanjhawala Case

नई दिल्ली। जिस तरह की लापरवाही पुलिस ने कंझावला मामले में बरती है, उसे देखते हुए पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है। अंजलि के साथ हुई दरिंदगी की गवाह रहे स्थानीय निवासी दीपक ने खुद दावा किया कि उन्होंने पुलिस को एक नहीं, दो नहीं, तीन भी नहीं, बल्कि 20-20 बार फोन किया था, लेकिन पुलिस की संजीदगी देखिए कि 20 में से एक बार भी फोन उठाने की जहमत नहीं उठाई गई। इतना ही नहीं, गृह मंत्रालय को दिल्ली पुलिस द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट में पुलिस की लापरवाही का भी खुलासा हुआ है। जांच रिपोर्ट में स्पष्ट है कि मौका-ए-वारदात के तकरीबन 5 किलोमीटर के दायरे में एक नहीं, दो नहीं, बल्कि पांच-पांच पीसीआर पुलिस बलों के साथ मौजूद थे, लेकिन किसी ने भी सक्रियता नहीं दिखाई। नतीजतन उस बच्ची को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। उधर, सामने आए कई सीसीटीवी फुटेज में मौका-ए-वारदात के पास पुलिसबल चहलकदमी करते हुए नजर आ रहे हैं। सवाल यह है कि जब भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती थी, भला क्यों नहीं 20-20 बार फोन किए जाने के बावजूद भी कुछ किया गया?

Delhi Kanjhawala Case ......

आपको बता दें कि मामले में शुरू से ही पुलिस की कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में है। डीसीपी हरेंद्र सिंह ने जिस तरह चिकित्सकीय परीक्षण के बिना ही मामले में यौन अपराध की बात को खारिज कर दिया था, उसे लेकर भी सवाल उठ रहे हैं कि आखिर कैसे बिना परीक्षण के ही पुलिस ने दावा कर दिया कि युवती के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ। वहीं, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पुष्टि हो चुकी है कि युवती के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है। उधर, अंजलि की दोस्त निधि ने अंजलि को शराब पीने की बात कही थी, लेकिन पीएम रिपोर्ट में शराब पीने की पुष्टि नहीं हुई है। ऐसे में निधि अपने बयानों को लेकर संदेह के घेरे में आ चुकी है। आज पुलिस निधि के घर भी पहुंची है। वहीं लगातार सामने आ रहे सीसीटीवी फुटेज निधि को सवालों के घेरे में रख रही है।

Kanjhawala Case

वहीं, जिस तरह अंजलि मामले की जांच में पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठ रहे हैं, उसे देखते हुए परिजनों ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। परिजनों ने स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें पुलिस जांच में भरोसा नहीं है, जिसे देखते हुए गत दिनों एमएचए द्वार दिल्ली पुलिस ने मामले की जांच रिपोर्ट तलब की थी। जिसमें आज दिल्ली पुलिस की लापरवाही सामने आई है। उधर, आज मौके पर पहुंचकर एफएसएल टीम भी मौके पर पहुंची थी। अब ऐसे में यह पूरा माजरा आगामी दिनों में क्या रुख अख्तियार करता है। इस पर सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।