2018 के अन्वय नायक आत्महत्या केस में पत्रकार अर्नब गोस्वामी गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

Arnab Goswami: अन्वय नाइक(Anvay Naik) के सुसाइड नोट को लेकर पुलिस ने बताया कि ‘कॉनकॉर्ड डिज़ाइन्स प्राइवेट लिमिटेड के मालिक अन्वय नाइक ने ‘सुसाइड नोट में दावा किया था कि गोस्वामी(Arnab Goswami), ‘आईकास्टएक्स/स्कीमीडिया के फिरोज शेख और ‘स्मार्ट वर्क्स के नितीश सारदा के उसके बकाया पैसों का भुगतान ना करने की वजह से वह आत्महत्या कर रहे हैं।

Avatar Written by: November 4, 2020 3:51 pm

नई दिल्ली। बुधवार को मुंबई पुलिस द्वारा रिपब्लिक टीवी के प्रधान संपादक अर्नब गोस्वामी को एक 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने के दो साल पुराने मामले में गिरफ्तार कर लिया। हालांकि रिपब्लिक टीवी की तरफ से कहना है कि ये गिरफ्तारी उस मामले में हुए है जो काफी दिन पहले बंद हो चुका है। ये कार्रवाई पूरी तरह से राजनीति से प्रेरित है। वहीं जहां अर्नब की गिरफ्तारी को लेकर महाराष्ट्र सरकार और पुलिस की आलोचना हो रही है तो दूसरी तरफ अर्नब की गिरफ्तारी के बाद अन्वय नाइक की पत्नी ने कहा कि मैं वर्ष 2018 को नहीं भूलूंगी। अपने सुसाइड नोट में मेरे पति ने तीन नामों का उल्लेख किया था, लेकिन उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई थी। मेरे पति की मौत के पीछे अर्नब गोस्वामी हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस द्वारा की गई ये कार्रवाई हमारे लिए न्याय है।

Arnab Goswami

बता दें कि अन्वय नाइक की बेटी अदन्या नाइक ने अर्नब पर आरोप लगाते हुए कहा कि अर्नब ने मेरे पिता को धमकी दी थी और उनसे कहा था कि वह मेरे पिता का करियर खराब कर देगा। अर्नब ने मेरे पिता के क्लाइंट समेत सभी से कहा था कि कोई भी उन्हें काम ना दे। अधिकारी ने बताया कि 2018 में एक आर्किटेक्ट और उनकी मां ने कथित तौर पर गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी द्वारा उनके बकाये का भुगतान न किए जाने के कारण आत्महत्या कर ली थी। इसी साल मई में आर्किटेक्ट अन्वय नाइक की बेटी अदन्या नाइक ने महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख से इस मामले में नई शिकायत की थी। जिसके आधार पर इस मामले में फिर से जांच का आदेश दिया गया।

anvay naik Family

देशमुख ने बताया था कि अदन्या ने आरोप लगाया है कि अलीबाग पुलिस ने गोस्वामी के चैनल द्वारा बकाया भुगतान ना करने के मामले में जांच नहीं की। उसका दावा है कि इस कारण ही उसके पिता और दादी ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। पुलिस ने बताया कि आत्महत्या के मामले में गोस्वामी को रायगढ़ जिले के अलीबाग ले जाया गया है।

वहीं अपनी गिरफ्तारी को लेकर गोस्वामी ने दावा किया कि पुलिस ने उन्हें अपने साथ ले जाने से पहले उनके घर में, उन पर हमला किया।  वायरल हुए एक वीडियो में गोस्वामी के घर पहुंचे पुलिसकर्मी उनसे यह कहते हुए दिख रहे हैं कि वह उनके साथ शांति से चलें। इस बात पर दोनों के बीच मामूली हाथापाई होती दिख रही है। वहीं पुलिस वैन से गोस्वामी ने दावा किया कि उनके और उनके बेटे के साथ बदसलूकी की गई और उन्हें उनके ससुरालवालों से भी मिलने नहीं दिया गया।

anvay naik suicide note

अन्वय नाइक के सुसाइड नोट को लेकर पुलिस ने बताया कि ‘कॉनकॉर्ड डिज़ाइन्स प्राइवेट लिमिटेड के मालिक अन्वय नाइक ने ‘सुसाइड नोट में दावा किया था कि गोस्वामी, ‘आईकास्टएक्स/स्कीमीडिया के फिरोज शेख और ‘स्मार्ट वर्क्स के नितीश सारदा के उसके बकाया पैसों का भुगतान ना करने की वजह से वह आत्महत्या कर रहे हैं।

पुलिस ने बताया कि ‘सुसाइड नोट के अनुसार इन तीनों कम्पनियों ने नाइक को क्रमश: 83 लाख रुपये, चार करोड़ रुपये और 55 लाख रुपये देने थे। पुलिस ने बताया कि ‘सुसाइड नोट में जिन अन्य दो लोगों का जिक्र किया गया है, उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गया है। बकाये का भुगतान ना करने के दावों पर रिपब्लिक टीवी ने एक बयान में कहा कि ‘कॉनकॉर्ड को पूरे पैसे दे दिए गए हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost