Connect with us

देश

Karnataka: महिला सुरक्षा पर भाजपा MLA अराविंद लिम्बावली की पहल, 2023 तक अपने क्षेत्र को ज्यादा सुरक्षित करने का किया वादा

karnataka : विधायकों ने कहा कि अपने विधानसक्षा क्षेत्र को महिलाओं की लिहाज से सुरक्षित क्षेत्र बनाएंगे। बता दें कि उनके उक्त ऐलान को कर्नाटक के आगामी 2023 के विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।  बता दें कि विगत शनिवार को बैंगलोर राजनीतिक कार्रवाई समिति के शुभारंभ के दौरान मल्लेश्वरम विधायक डॉ सी एन अश्वथ नारायण ने कहा कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने की दिशा में कार्य करेंगे।

Published

on

नई दिल्ली। अगर आप सियासी गतिविधियों को लेकर आतुर रहने वाले लोगों की जमात में शामिल हैं, तब तो आपको ये पता ही होगा कि अमूमन हर चुनावी मौसम में सियासी सूरमाओं द्वारा जनता जनार्दन को रिझाने की दिशा में महिलाओं से संदर्भित मुद्दों का खूब जोरों से जिक्र किया जाता है। वजह साफ है कि मतदान के दौरान सर्वाधिक महिलाएं हिस्सा लेतीं हैं। ऐसी स्थिति उनसे जुड़े मुद्दों का जिक्र किया जाना लाजिमी ही है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा क्या हो गया कि आप एकाएक महिलाओं से जुड़े मुद्दों को लेकर आज एकाएक भूमिकाओं का सैलाब ही बहाने पर आमादा हो गए, तो अगर आप भी ऐसा ही कुछ सोच रहे हैं, तो आपको बताते चलें कि हम महिलाओं के संदर्भ में भूमिकाओं का सैलाब इसलिए बहा रहे हैं, क्योंकि महादेवपुरा से विधायक अरविंद लिबांवली ने और मल्लेश्वरम विधायक डॉ सी एन अश्वथ नारायण ने ऐलान किया है कि वे महिलाओं के हित की दिशा में अपने विधानसभा क्षेत्र में अनेकों कार्य करेंगे। महिलाओं की हित की दिशा में खाका तैयार कर उसे जींवत करेंगे।

विधायकों ने कहा कि अपने विधानसक्षा क्षेत्र को महिलाओं की लिहाज से सुरक्षित क्षेत्र बनाएंगे। बता दें कि उनके उक्त ऐलान को कर्नाटक के आगामी 2023 के विधानसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।  बता दें कि विगत शनिवार को बैंगलोर राजनीतिक कार्रवाई समिति के शुभारंभ के दौरान मल्लेश्वरम विधायक डॉ सी एन अश्वथ नारायण ने कहा कि वे अपने विधानसभा क्षेत्र को महिलाओं के लिए सुरक्षित बनाने की दिशा में कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि, मैं आश्वासन के साथ कह सकता हूं कि जब से मैंने विधायक का पद ग्रहण किया है, तब मेरे विधानसभा क्षेत्र में महिलाओं के साथ किसी भी प्रकार का दुर्व्यवहार नहीं हुआ होगा। उन्होंने कहा कि मेरे पद ग्रहण करने के बाद से महिलाओं की  सुरक्षा मेरी प्राथमिकता में शामिल रहा है।

वहीं, उन्होंने यह भी कहा कि वे महिलाओं की सुरक्षा के संदर्भ में दिए गए सभी सुझावों का तहे दिल से स्वागत करते हैं। बता दें कि निर्वाचन क्षेत्र की 45 महिलाओं की तरफ से महिलाओं से जुड़ी कमियों को संदर्भित करती हुई प्रतिवेदन दाखिल गई थी। विदित हो कि उक्त प्रतिवेदन में महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से महत्वपूर्ण स्ट्रीटलाइट, सार्वजनिक शौचालय का दुरूस्तीकरण, सीसीटीवी कैमरों को दुरूस्त करना, फुटपाथ के एरिया को चलने योग्य में बनाने की ओर उच्च स्तर का ध्यान आकृष्ट किया गया। महादेवपुरा विधायक लिंबावली ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में विकास परियोजनाओं को नए सिरे से शुरू करने की अपनी प्रतिज्ञा दोहराई, जबकि यह भी बताया कि विकास में सबसे बड़ी बाधा भूमि के मुद्दे और धन की कमी थी। बता दें कि लिंबावली बेहद ही बेबाक किस्म के राजनेता हैं, जो किसी न किसी मसले को लेकर अपनी ही सरकार पर आरोप लगा देते हैं। उनकी यही खासियत उन्हें दूसरे राजनेताओं से अलग पहचान दिलाती है। विगत विधानसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बतौर विधायक शपथ लिया था। तब से लेकर अब तक वे किसी न किसी मसले पर मुखर रहते हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement