दिल्ली चुनाव से पहले राहुल गांधी को जोरदार झटका, कांग्रेस के इस बड़े नेता के बेटे ने थामा ‘कमल’

जैसे-जैसे दिल्ली विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों में नए-नए बदलाव देखने को भी मिल रहे हैं। कोई पार्टी छोड़ रहा है तो कोई अपने दल को छोड़ कर दूसरे दल से जुड़ रहा है। इसी बीच चुनाव से पहले भाजपा ने कांग्रेस को जोरदार झटका दिया है।

Written by: February 4, 2020 3:58 pm

नई दिल्ली। जैसे-जैसे दिल्ली विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियों में नए-नए बदलाव देखने को भी मिल रहे हैं। कोई पार्टी छोड़ रहा है तो कोई अपने दल को छोड़ कर दूसरे दल से जुड़ रहा है। इसी बीच चुनाव से पहले भाजपा ने कांग्रेस को जोरदार झटका दिया है। बता दें, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जनार्दन द्विवेदी के बेटे समीर द्विवेदी भाजपा में शामिल हो गए हैं।sameer janardan join bjp

वहीं चुनाव से पहले इसे कांग्रेस पार्टी को बड़ा नुकसान बताया जा रहा है। जर्नादन द्विवेदी कांग्रेस के काफी बड़े नेता माने जाते हैं। उनके बेटे के द्वारा चुनाव से ऐन वक्त पहले पार्टी को छोड़ कर भाजपा में शामिल होना एक बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है।

करीब डेढ़ दशक तक कांग्रेस के संगठन महासचिव रहे जनार्दन द्विवेदी की गिनती सोनिया गांधी के करीबियों में होती है। वहीं बेटे समीर के बीजेपी का दामन थामने पर जनार्दन द्विवेदी ने कहा कि उन्हें इस बारे में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर समीर ने बीजेपी जॉइन की है तो यह उनका खुद का फैसला है।

janardan dwivedi

इसके साथ ही आपको बता दें दिल्ली में विधानसभा चुनाव होने से पहले कांग्रेस ने अपनी तैयारियों के लिए कई समितियों का गठन किया और चुनाव प्रबंधन समिति व प्रचार समिति में पूर्व महासचिव जनार्दन द्विवेदी को बतौर सदस्य जगह दी गई। द्विवेदी हाल के दिनों में कई मुद्दों को लेकर पार्टी के लिए महत्वपूर्ण साबित हुए हैं।

janardan dwivedi

गौर हो कि 30 मार्च 2018 को जनार्दन द्विवेदी को संगठन महासचिव पद से हटाया गया था। खास बात है कि इसका लेटर भी खुद उनके सिग्नेचर से जारी किया गया था। इस विदाई के साथ ही माना जा रहा था कि अब जनार्दन द्विवेदी सक्रिय राजनीति को अलविदा कह देंगे।

janardan dwivedi congress

हालांकि, उन्होंने पार्टी नहीं छोड़ी लेकिन उनके बेटे ने अब बीजेपी का दामन थाम लिया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को वोट डाले जाएंगे और 11 फरवरी को वोटों की गिनती की जाएगी।

Exclusive Video –