Connect with us

देश

Dussehra 2022: यमुनानगर में बड़ा हादसा, एकाएक जलता रावण लोगों के ऊपर गिरा, और फिर जो हुआ…

उनके कारण भी लोग अपने आप को सुरक्षित जगह पर चले जाए । प्रभारी ने कहा है कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि व्यक्ति को किसी प्रकार की कोई चोट नहीं आई है ।और ना ही किसी प्रकार का कोई जॉन माल का नुकसान हुआ है ।

Published

नई दिल्ली। यमुनानगर के मॉडल टाउन के दशहरा ग्राउंड में देर शाम रावण का पुतला जलते हुए लोगों के ऊपर गिर गया। जिसके कारण दशहरा देखने आए लोगों में भगदड़ मच गई । गनीमत यह रही कि इस दौरान जब रावण का पुतला लोगों के ऊपर आकर गिरा तो उस पुतले के कारण किसी जी व्यक्ति की जान माल को कोई नुकसान नहीं हुआ । और ना ही लोगों को किसी प्रकार की कोई चोटें आई हैं। लोगों को केवल हल्की सी लकड़ी की खरोंच लगी है बाकी सभी लोग सुरक्षित है । वही पर शहर थाना यमुनानगर प्रभारी कमलजीत सिंह खुद मौके पर मौजूद थे। और उन्होंने लोगों को पीछे हटने के लिए लगातार कहते रहे कि आप सभी पुतला से दूर रहें क्योंकि पुतले में आग लगी हुई है साथ ही जो पटाखे उनमें लगाए गए हैं।

उनके कारण भी लोग अपने आप को सुरक्षित जगह पर चले जाए । प्रभारी ने कहा है कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि व्यक्ति को किसी प्रकार की कोई चोट नहीं आई है ।और ना ही किसी प्रकार का कोई जॉन माल का नुकसान हुआ है । लेकिन जब तीनों मेघनाथ और रावण, कुभकरण का पुतला जलाया गया तो रावण का पुतला अधिक ऊंचाई होने के कारण वह लोगों पर जा गिरा ।उसमें देखने से यह लग रहा था कि शायद इस घटना में बहुत से लोग घायल होगे । लेकिन कि किसी भी व्यक्ति को इस प्रकार की भयंकर चोट नही आई । और एक भयंकर हादसा होने से टल गया । जिला प्रशासन और पुलिस कर्मचारी लगातार लोगों की सुरक्षा को देखते हुए तैनात हैं ।

फायर ब्रिगेड की गाड़ी और एंबुलेंस गाड़ी भी मौके पर ही मौजूद थी । फायर ब्रिगेड चालक और एंबुलेंस चालक ने भी किसी प्रकार की अनहोनी होने की कोई बात नहीं कही है ।उनका कहना है किस रावण का पुतला ऊंचाई अधिक होने के कारण लोग पर गिर गया। लेकिन लोग सुरक्षित है कुछ लोग पुतला गिरने की चपेट में आए तो जरूर है नुकसान नहीं

Advertisement
Advertisement
Advertisement