Binding Bharat Foundation: नर सेवा ही नारायण सेवा इस वाक्य को सार्थक करती बाइंडिंग भारत फाउंडेशन की पहल, वृद्धा आश्रम में पहुंचकर की सेवा

Binding Bharat Foundation: वृद्ध आश्रम (old age home) में कनुप्रिया जाजू (Kanupriya Jaju) ने अनाज, बिस्कुट, साड़ी, शाल व अन्य सामान वितरित करते हुए कहा कि नर सेवा ही नारायण सेवा (Nar Sewa Hi Narayan Sewa) है। असहाय, गरीब व बीमार लोगों की मदद के लिए सभी को सदैव तैयार रहना चाहिए।

Written by: October 1, 2020 7:57 pm
Binding BHarat Foundation

लखनऊ। बाइंडिंग भारत फाउंडेशन की अध्यक्ष कनुप्रिया जाजू एवं उनके सहयोगियों द्वारा लखनऊ में बुधवार को उत्तर-प्रदेश सरकार द्वारा अनुदानित वृद्ध आश्रम में रह रहे वृद्धजनों को खाद्य सामग्री, वस्त्र, चश्मा एवं अन्य जरूरी समान वितरित किया गया। फाउंडेशन विभिन्न सामाजिक एवं नैतिक कार्यों में लगातार अपनी भागीदारी दर्ज कराकर समाज सेवा में लगा है।

Binding BHarat Foundation
वृद्ध आश्रम में कनुप्रिया जाजू ने अनाज, बिस्कुट, साड़ी, शाल व अन्य सामान वितरित करते हुए कहा कि नर सेवा ही नारायण सेवा है। असहाय, गरीब व बीमार लोगों की मदद के लिए सभी को सदैव तैयार रहना चाहिए। उन्होंने बताया की हमारी टीम सदैव सामाजिक कार्य के लिए तत्पर रहती है और आगे भी इसी तरह समाज सेवा के कार्यों को करती रहेगी।Binding BHarat Foundation

उन्होंने बताया कि बाइंडिंग भारत देश ही नहीं अपितु देश के बाहर भी शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण, भुखमरी एवं अन्य सामाजिक मुद्दों पर कार्य कर रहा है। जिसका प्रमुख उद्देश्य युवाओं को एकजुट कर समस्त देशों के हित में कार्य करना है। उन्होंने कहा कि किसी भी देश की प्रगति के लिए देश के युवाओं का एकजुट होना जरुरी है। युवा शक्ति देश और समाज की रीढ़ होती है।

  • Binding BHarat Foundation

  • Binding BHarat Foundation

  • Binding BHarat Foundation

समाज को बेहतर बनाने और राष्ट्र के निर्माण में सर्वाधिक योगदान युवाओं का ही होता है। उन्होंने बताया कि देश के बाहर श्रीलंका में पूर्व सरकार के साथ मिल कर कार्य किया जा चुका है। इसके साथ ही नेपाल एवं मॉरीशस में सामाजिक कार्य किया जाना प्रस्तावित है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost