Connect with us

देश

UP: मुख्यमंत्री योगी ने आगरा में आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन में लिया हिस्सा

सीएम योगी ने आगरा के सभी उद्यमियों और व्यापारियों से अपील भी की। उन्होंने कहा कि आगरा के उद्यमी अधिक से अधिक निवेश के लिए लोगों को तैयार करें। सरकार पोर्टल के माध्यम से न सिर्फ बिजनेस की सुगमता के लिए बल्कि शासन से मिलने वाले इंसेटिव्य को भी पोर्टल के माध्यम से करने जा रहे हैं। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए, आम नागरिक के ईज ऑफ लिविंग के लिए जरूरतों को हम तभी पूरा कर पाएंगे

Published

आगरा, 28 नवंबर। आगरा 2017 के पहले सबसे गंदे शहरों में गिना जाता था। प्रदूषण इस तरह था कि सुप्रीम कोर्ट को सभी उद्योग बंद करने पड़े थे। कोई नया निर्माण नहीं होने दिया गया। किसी भी प्रकार की अव्यवस्था और अराजकता को बढ़ावा देने के लिए उस समय सुप्रीम कोर्ट को तत्कालीन सरकार पर तमाम प्रकार की कानूनी पाबंदी लगानी पड़ी। आज मुझे प्रसन्नता है कि पिछले 5 वर्षों में आपने उत्तर प्रदेश की बदलती तस्वीर को देखा है। आगरा आज स्मार्ट सिटी के रूप में नित नए प्रतिमान स्थापित कर रहा है। अगले एक वर्ष में हम आगरावासियों को मेट्रो की सुविधा देने जा रहे हैं। मेट्रो की यह सुविधा आगरा को एक नई पहचान के रूप में आगे बढ़ाएगी। जब सुप्रीम कोर्ट ने आगरा के पॉल्यूशन की समस्या को ध्यान में रखते हुए आगरा को टीटीजेड के दायरे में लाने की कार्यवाही को आगे बढ़ाया तो हमने तय किया कि अब आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स से जुड़े जितने भी उद्योग लगेंगे उनमें हम आगरा और इसके आसपास के क्षेत्र को प्राथमिकता देंगे। हजारों नौजवानों को नौकरी और रोजगार मिलेगा। डबल इंजन की सरकार न सिर्फ विकास के लिए बल्कि आमजन की सुविधा के लिए पूरी तत्परता से काम कर रही है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह बातें आगरा के फतेहाबाद रोड तारघर में आयोजित प्रबुद्ध जन सम्मेलन प्रगति पथ पर पर्यटन नगरी में कहीं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर 488 करोड़ की 88 परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया। इस दौरान विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को सीएम योगी ने आवास की चाबी एवं चेक प्रदान किए। इससे पहले मुख्यमंत्री के समक्ष पर्यटन नगरी के उद्योग और विकास समेत मिशन शक्ति से जुड़ी लघु फिल्मों का भी मंचन किया गया।

देश और प्रदेश में पैदा हुआ विश्वास का माहौल

अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए सीएम योगी ने कहा कि आज आगरा अपनी पौराणिक पहचान को फिर से स्थापित कर रहा है। 2014 के पहले देश में क्या स्थिति थी। राजनीति अविश्वास का प्रतीक थी। देश में अराजकता थी और लोगों के मन में देश की राजनीति के प्रति अविश्वास का यह भाव अराजकता को जन्म दे रहा था। आज मुझे प्रसन्नता हो रही है कि देश के अंदर विश्वास का माहौल पैदा हुआ है। भारत एक बार फिर से जिस रूप में दुनिया में आगे बढ़ रहा है आजादी का अमृत महोत्सव उसका उदाहरण है। जब पूरा देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है तब वैश्विक मंच पर भारत का धमाकेदार उदय हुआ है। आजादी के अमृत महोत्सव पर इससे बड़ा सौभाग्य क्या हो सकता है कि जिस ब्रिटेन ने 200 वर्षों तक भारत पर शासन किया था, आज उस ब्रिटेन को पछाड़कर भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना है। दुनिया के 20 बड़े देश जिनका दुनिया के 80 प्रतिशत संसाधनों पर अधिकार है, उन देशों का अगले एक वर्ष तक प्रधानमंत्री मोदी के रूप में भारत नेतृत्व करेगा। हर भारतवासी को भारत की इस उपलब्धि पर गौरव की अनुभूति होनी चाहिए।

आगरा को मुगल नहीं शिवाजी की आवश्यक्ता

सीएम ने आगरा में 2017 से पहले के माहौल की चर्चा करते हुए कहा कि आगरा में कोई कार्य होता था तो कार्य के पीछे की मंशा क्या होती थी। म्यूजियम के नाम पर तमाशा बनाया गया था। आज भी मानसिकता बदली नहीं। यहां मुगल म्यूजियम बनाया जा रहा था। हमने कहा आगरा को मुगल की नहीं, छत्रपति शिवाजी महाराज की आवश्यक्ता है और आगरा के इस म्यूजियम को हमने छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम पर समर्पित किया है। आज आगरा प्रधानमंत्री आवास योजना में नंबर वन है। स्ट्रीट वेंडर के लिए कोई सुविधा नहीं थी, अब पीएम स्वनिधि योजना के तहत उन्हें सुविधा मिल रही है। कोई सोचता था पहले कि गरीब को विद्युत के कनेक्शन मिलेंगे, कोई सोचता था कि गरीब को फ्री रसोई गैस के सिलेंडर मिलेंगे, कोई सोचता था कि गरीब को फ्री में शौंचालय मिलेगा, कोई सोचता था कि विपत्ति में कोई सरकार आपके साथ खड़ी होगी। आज आगरा में एयर कनेक्टिविटी शुरू हो चुकी है। इसको और अच्छा बनाने की दिशा में कार्य कर रहे हैं। यमुना को निर्मल और अविरल बनाने की कार्यवाही चल रही है। हर घर नल की योजना साकार हो रही है। ये सब संभव हो पाया है, क्योंकि केंद्र और प्रदेश सरकार ने मिलकर योजनाओं को डबल इंजन की रफ्तार से आगे बढ़ाया और स्थानीय निकाय की संस्थाएं जब योगदान देती हैं और प्रबुद्ध वर्ग का सानिध्य प्राप्त होता है तो आगरा एक स्वच्छ शहर के रूप में, स्मार्ट सिटी के रूप में और सुरक्षित सिटी के रूप में नजर आता है।

माफिया का जीना हराम किया

सीएम योगी ने योजनाओं का अब तक लाभ नहीं पा सके पात्र लोगों को भी आश्वस्त किया। उन्होंने कहा कि हर उस नागरिक को जो पात्रता की श्रेणी में है, जिसे आवास नहीं मिला है, सरकार उसे आवास अवश्य उपलब्ध कराएगी। हर उस व्यापारी को जो व्यापार करना चाहता है, लेकिन उसके व्यवसाय की सुगमता में कुछ बैरियर थे उन्हें समाप्त करके ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को और भी आसान करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार मिलकर कार्य कर रही है। वन डिस्ट्रक्ट और वन प्रोडक्ट में आपने मार्बल और लेबर में एक स्थान बनाया है। उस प्रक्रिया को तेजी से बढ़ाना होगा। हम सब विकास की इस प्रक्रिया के साथ जुड़े हैं। हमने 10 से 12 फरवरी 2023 में राजधानी लखनऊ में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया है। उत्तर प्रदेश को देश की इकॉनमी का ग्रोथ इंजन बनना ही पड़ेगा। इसके लिए हमने 5 वर्ष में जो मेहनत की, सुरक्षा का जो बेहतर माहौल दिया, उसी का नतीजा है कि जो माफिया सत्ता के साथ मिलकर गरीबों का, व्यापारियों का, उद्यमियों का जीना हराम कर देते थे आज ऐसे पेशेवर संगठित अपराधियों का प्रदेश की पुलिस ने जीना हराम कर दिया है। अब ये गले में तख्ती लगाकर घूमते हैं कि अब हम ठेला लगाकर सब्जी बेच लेंगे, लेकिन जान बख्श दो बस। मैं यही सुरक्षा की गारंटी देने आया हूं।

विकास की इस रफ्तार को थमने नहीं देना है

सीएम योगी ने आगरा के सभी उद्यमियों और व्यापारियों से अपील भी की। उन्होंने कहा कि आगरा के उद्यमी अधिक से अधिक निवेश के लिए लोगों को तैयार करें। सरकार पोर्टल के माध्यम से न सिर्फ बिजनेस की सुगमता के लिए बल्कि शासन से मिलने वाले इंसेटिव्य को भी पोर्टल के माध्यम से करने जा रहे हैं। ईज ऑफ डूइंग बिजनेस के लिए, आम नागरिक के ईज ऑफ लिविंग के लिए जरूरतों को हम तभी पूरा कर पाएंगे जब सभी संस्थाएं मिलकर काम करेंगी। डबल इंजन की सरकार जिस स्पीड से कार्य कर रही है, स्थानीय निकाय से जुड़ी संस्थाएं जिस मजबूती के साथ अभियान से जुड़ी हुई हैं, उसका उदाहरण अभी आपने मंच पर देखा होगा। लाभार्थियों से जब मैंने पूछा कि आपको पूरा पैसा मिला, तो उन्होंने कहा कि पैसा पूरा मिला है। मैंने पूछा कि पैसा किसी ने मांगा तो नहीं तो उसने कहा कि मांगेगा कैसे, पैसा तो मेरे खाते में जाता है। कोई सोचता था कि आगरा में एयर कनेक्टिविटी होगी, कोई सोचता था कि आगरा में मेट्रो आएगी। कोई सोचता था कि आगरा में शुद्ध गंगा जल लोगों को पीने को मिलेगा। आगरा विकास की नित नई ऊंचाइयों को छूता हुआ आगे बढ़ रहा है, विकास की यह प्रक्रिया और बुलेट की स्पीड से बढ़ने वाली विकास की इस रफ्तार को थमने नहीं देना है। इस अवसर पर केंद्र सरकार के कानून राज्य मंत्री प्रो. एसपी सिंह बघेल, उत्तर प्रदेश सरकार की केंद्रीय मंत्री बेबी रानी मौर्य, उच्च शिक्षा मंत्री योगेंद्र उपाध्याय समेत सांसद, विधायक एवं मेयर उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement