Connect with us

देश

4 years of Yogi Government: एबीपी-सी वोटर सर्वे में किया गया दावा, अभी चुनाव हुए तो भाजपा की होगी यूपी में दमदार वापसी

4 years of Yogi Government: सर्वे के मुताबिक यूपी की योगी सरकार आज की तारीख में भी लोगों की पहली पसंद बनी हुई है। सर्वे में शामिल लोगों की राय देखने से पता चलता है कि आज की तारीख में अगर यूपी में विधानसभा चुनाव हुए तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) करीब 41 प्रतिशत वोट हासिल कर सकती है।

Published

on

CM Yogi Office mobile

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के आज चार साल पूरे हो गए। 19 मार्च 2017 को प्रदेश की कमान अपने हाथ में लेने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को कानून-व्यवस्था एवं अन्य मु्द्दों को लेकर विपक्ष के निशाने पर रहना पड़ा है। बावजूद इसके उनकी सरकार की लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई है। योगी सरकार अभी भी जनता की पहली पसंद बनी हुई है। एबीपी-सी वोटर ने योगी सरकार के कामकाज को लेकर हाल ही में एक सर्वे किया है। इस सर्वे में सीएम योगी के चार साल के शासन के बाद जनता की नब्ज टटोलने की कोशिश की गई है। इस सर्वे में यह बात सामने आई है कि अगर आज की तारीख में चुनाव हुए तो भाजपा सरकार एक बार फिर शानदार बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करेगी जबकि विपक्षी दल समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस का हाल कमोबेश वही रहने वाला है जो 2017 के चुनाव नतीजे के समय था।

Yogi Adityanath

सर्वे के मुताबिक यूपी की योगी सरकार आज की तारीख में भी लोगों की पहली पसंद बनी हुई है। सर्वे में शामिल लोगों की राय देखने से पता चलता है कि आज की तारीख में अगर यूपी में विधानसभा चुनाव हुए तो भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) करीब 41 प्रतिशत वोट हासिल कर सकती है। साल 2017 के विधानसभा चुनाव में भगवा पार्टी को 41.4 फीसदी वोट मिले थे। पिछले विधानसभा चुनाव की तुलना में इस बार पार्टी को थोड़े कम वोट मिल सकते हैं। एबीपी-सी वोटर्स का यह सर्वे मार्च 2021 का है।

सर्वे में सपा, बसपा और कांग्रेस के लिए अच्छी बात उभरकर सामने नहीं आई है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को सत्ता में लौटने की उनकी हसरत अधूरी रह सकती है। सर्वे के मुताबिक चुनाव में सपा को 24.4 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। यह पार्टी को 2017 के विस चुनाव में मिले वोट प्रतिशत से महज 2.4 प्रतिशत ज्यादा है। पिछले विधानसभा चुनाव में सपा को 22 प्रतिशत वोट मिले थे। इसी तरह बसपा भी अपने पुराने प्रदर्शन के आस-पास रहने वाली है। पिछले विस चुनाव में मायावती की पार्टी को 22.2 प्रतिशत वोट मिले थे जबकि इस बार उसे 20.8 फीसदी वोट मिल सकते हैं। बसपा के वोट बैंक में 1.4 फीसदी की गिरावट देखी जा रही है।

सर्वे में राज्य में कांग्रेस की हालत सुधरती नहीं दिखी है। चुनाव में देश की सबसे पुरानी पार्टी को 5.9 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस 6.2 फीसदी वोट पाने में सफल हुई थी लेकिन इस बार उसके वोट बैंक में 0.3 प्रतिशत की कमी हो सकती है। जबकि अन्य दलों के बारे में सर्वे में कहा गया है कि इन राजनीतिक पार्टियों को 7.9 प्रतिशत वोट मिल सकता है। साल 2017 में अन्य दलों का वोट प्रतिशत 8.2 प्रतिशत था। बता दें कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा की 403 सीटों के लिए फरवरी से अक्टूबर 2022 के बीच चुनाव कराए जा सकते हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Hero Splendor Electric Bike
ऑटो4 weeks ago

Hero Splendor Electric Bike: अब हीरो स्प्लेंडर का इलेक्ट्रिक धांसू अवतार मचाएगा तहलका, एक बार चार्जिंग पर दौड़ेगी इतने किमी, जानिए डिटेल

gd bakshi on agniveer protest
देश1 week ago

Agniveer Protests: ‘मत मारो अपने पैरों पर कुल्हाड़ी’, अग्निवीर मुद्दे पर उपद्रव कर रहे लोगों को सेना के पूर्व अफसर जीडी बख्शी की सलाह

देश3 weeks ago

Richa Chadha: नूपुर शर्मा विवाद पर ऋचा चड्ढा ने कसा तंज, लोगों ने लगाई एक्ट्रेस की क्लास कहा- ‘इस आंटी की….’

rajnath singh with service chiefs
देश6 days ago

Agneepath: अग्निवीरों की भर्ती के बाद सेना के लिए एक और बड़े फैसले की तैयारी में सरकार, होंगे ये अहम बदलाव

rakesh tikait
देश4 weeks ago

Rakesh Tikait: ‘वाह…वाह… मजा आ गया..!’, राकेश टिकैत पर स्याही फेंकने के बाद सोशल मीडिया पर आए लोगों के ऐसे रिएक्शन

Advertisement