कड़कड़डूमा में विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी, शाहीन बाग को लेकर दिया बड़ा बयान

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कड़कड़डूमा में चुनावी रैली को संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष पर जमकर बरसे। साथ ही उन्होंने शाहीन बाग का मुद्दा उठाया।

Written by: February 3, 2020 5:59 pm

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कड़कड़डूमा में चुनावी रैली को संबोधित किया। रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी विपक्ष पर जमकर बरसे। साथ ही उन्होंने शाहीन बाग का मुद्दा उठाया। पीएम ने कहा कि दिल्ली में आतंकी हमले होने बंद हो गए, लेकिन जब इन्हीं हमलों के गुनहगारों को बाटला हाउस में मार गिराया गया तो उसे फर्जी एनकाउंटर कहा गया। यही वे लोग हैं जिन्होंने बाटला हाउस में आतंकियों को मारने पर दिल्ली पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। यहीं वे लोग हैं जो भारत के टुकड़े-टुकड़े करने वालों को आजतक बचा रहे हैं। दिल्ली के लोग क्या ये भूल सकते हैं, ये वोट बैंक की राजनीति है। तुष्टिकरण की राजनीति है।

PM Narendra Modi

पीएम मोदी ने कहा कि क्या ऐसे लोग दिल्ली में विकास के लिए सुरक्षित वातारण दे सकते हैं, कतई नहीं दे सकते हैं। पीएम ने कहा, “सीलमपुर हो, जामिया हो या फिर शाहीन बाग, बीते कुछ दिनों से सीएए को लेकर प्रदर्शन हो रहे हैं, क्या ये प्रदर्शन सिर्फ एक संयोग है, जी नहीं ये संयोग नहीं ये एक प्रयोग है। इसके पीछे राजनीति का एक ऐसा डिजाइन है जो राष्ट्र के सौहार्द्र को खंडित करने का इरादा रखता है> ये सिर्फ एक कानून का विरोध होता तो सरकार के इतने आश्वासन के बाद खत्म हो जाता।”

Shaheen Bagh Protest

चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली के लोगों ने भाजपा को लोकसभा चुनाव में सभी सीटें दी। अब आपके वोट से दिल्ली बदलेगी। उन्होंने कहा कि बीते कई दिनों से भाजपा और सहयोगी दलों के कई वरिष्ठ नेता, तमाम उम्मीदवार, कार्यकर्ता और यहां के जागरूक नागरिक, आपके बीच आ रहे हैं, अपनी बात रख रहे हैं। दिल्ली के लोगों के मन में क्या है, ये बताने की जरूरत नहीं, ये आज साफ-साफ दिख रहा है। सातों सीटें देकर दिल्ली के लोगों ने बता दिया था कि वो किस दिशा में सोच रहे हैं। देश बदलने में दिल्ली के लोगों ने बहुत मदद की है। अब दिल्ली के लोगों का वोट अपनी दिल्ली को भी बदलेगा। पीएम ने कहा कि पहले वादे किए जाते थे लेकिन पूरे नहीं होते थे, लेकिन हमने संसद में कानून बनाकर दिल्ली के लोगों को अवैध कॉलोनियों की समस्या से मुक्ति दिला दी है। पीएम मोदी ने कहा कि अब दिल्ली के लोगों को सरकारी बुलडोजर से डरने की जरूरत नहीं है।

PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पर हमला बोलते हुए कहा कि केजरीवाल ने गरीबों का हक मार लिया और केंद्र की योजनाएं नहीं लागू किया। पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली को बदलने के लिए आप को बदलना जरूरी है। पीएम ने कहा कि जो लोग मौजूदा दौर में सत्ता में हैं वे राजनीति के अलावा कुछ नहीं करते हैं। पीएम ने कहा कि दिल्ली की सरकार केंद्र की योजना लागू होने नहीं दे रही है। क्या गरीबों को घर नहीं मिलना चाहिए, सरकार को लोगों के कल्याण के लिए काम करना चाहिए लेकिन दिल्ली की ये सरकार ऐसा करने नहीं दे रही है। ये लोग सकारात्मक सोच के साथ काम नहीं कर सकते हैं। दुर्भाग्य से दिल्ली की सत्ता गलत लोगों के हाथ में है।

प्रधानमंत्री ने कहा, “21वी सदी का भारत नफरत की नहीं बल्कि विकास की राष्ट्रनीति से चलेगी। अचानक विरोधी और विपक्षी कहते है मोदी जी इतनी जल्दी क्या है इतनी तेज़ी से एक के बाद बड़े फैसले क्यों ले रही है। देश को विकास को करना है तो दशकों पुरानी समस्याओं से मुक्ति पानी होगी।”

PM Narendra Modi

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश को धारा 370 से मुक्ति कितने साल बाद मिली,  70 साल बाद, राम मंदिर पर फैसला 70 साल बाद आया, करतारपुर कॉरिडोर 70 साल बाद बना। भारत बांग्लादेश बॉर्डर मुद्दा 70 साल बाद सुलझा। देश को सीएए 70 साल बाद मिला। नेशनल वॉर मेमोरियल 50 साल बाद बना। शत्रु सम्पत्ति कानून 50 साल बाद बना। बोडो समझौता 50 साल बाद हुआ। 84 दंगा के दोषियों को सजा 34 साल बाद मिली। सीडीएस का गठन 20 साल बाद हुआ।

पीएम मोदी ने कहा कि पहली बार, 50 करोड़ गरीबों को 5 लाख रुपये तक के मुफ्त इलाज की सुविधा मिली है। पहली बार, 10 करोड़ गरीब परिवारों तक टॉयलेट की सुविधा पहुंची है। पहली बार, 8 करोड़ गरीब बहनों की रसोई में गैस का मुफ्त कनेक्शन पहुंचा। पीएम ने कहा कि पहली बार, देश को लोकपाल भी मिला, देश के लोगों को तो लोकपाल मिल गया, लेकिन दिल्ली के लोग आज भी इंतजार कर रहे हैं। इतना बड़ा आंदोलन और इतनी बड़ी-बड़ी बातें की गई थी, उन सबका क्या हुआ?