Connect with us

देश

Bharat Jodo Yatra : ‘धर्म की जय हो, अधर्म का नाश हो’ राजस्थान के कई शहरों में क्यों लगे राहुल गांधी के देव दर्शन के ऐसे होर्डिंग्स?

Bharat Jodo Yatra : सियासी जानकारों की माने तो भाजपा की ओर से लगातार कांग्रेस पार्टी पर देश के एक बड़े वर्ग की अनदेखी करने और एक वर्ग विशेष के तुष्टिकरण के आरोप लगते रहे हैं, जिसके बाद पार्टी को भी अपनी पॉलिसी में बदलाव करना पड़ा और सॉफ्ट हिंदुत्व की राह अपनानी पड़ी, जिससे कि देश के बड़े वर्ग को अपने पाले में लाया जा सके।

Published

जयपुर। कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक चल रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान इस समय राहुल गांधी राजस्थान पहुंचे हुए हैं। इस बीच राजस्थान में राहुल गांधी की यात्रा से पहले ऐसे पोस्टर लगाए गए हैं जिनसे लगने लगा है कि कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा अब धर्म की राह पर चल पड़ी है। इसका अंदाजा इसी बात से लगा सकते हैं कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने दक्षिण भारत से लेकर उत्तर भारत के मध्य प्रदेश के ओंकारेश्वर और महाकाल जैसे बड़े मंदिरों में पूजा अर्चना कर सभी का ध्यान खींचा था। पूजा अर्चना की फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुए थे।

आपको बता दें कि राहुल गांधी के देव दर्शन यात्राओं को आगामी विधानसभा चुनाव में भुनाने और एक बड़े वर्ग को साधने के प्लान के तहत राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से भारत जोड़ो यात्रा के बीच राहुल गांधी के देव दर्शन यात्रा के बड़े-बड़े होर्डिंग्स और बैनर प्रदेश के जयपुर-दोहा समेत कई शहरों में लगाए गए हैं।

गौरतलब है कि राजस्थान की राजधानी जयपुर सहित भारत जोड़ो यात्रा के रास्ते मे पड़ने वाले जिले, जैसे- झालावाड़, कोटा, बूंदी, दौसा और अलवर जिलों में राहुल गांधी के धार्मिक यात्रा से जुड़े बड़े-बड़े होर्डिंग्स लगाए गए हैं जिनमें राहुल गांधी को विभिन्न मंदिरों में पूजा अर्चना करते हुए दिखाया गया है।

जयपुर में लगे होर्डिंग्स, तो उठने लगे सवाल

मध्य प्रदेश से राजस्थान की ओर बढ़ रही राहुल गांधी की भारत छोड़ो यात्रा के दौरान राजस्थान प्रदेश कांग्रेस की ओर से राजधानी जयपुर में राहुल गांधी की देव दर्शन यात्राओं के होर्डिंग्स सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बने हुए हैं। होर्डिंग्स में “धर्म की जय हो और अधर्म का नाश हो” लिखा हैं, साथ ही होर्डिंग्स में कई प्रमुख मंदिरों में राहुल गांधी के पूजा अर्चना करते हुए अलग-अलग फोटो भी लगाए गए हैं।

Rahul Gandhiक्या सॉफ्ट हिंदुत्व की राह अपनाने वाली है कांग्रेस?

देश की राजनीति के जानकार राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कांग्रेस की सॉफ्ट हिंदुत्व वाली पॉलिसी को साफ तौर पर देख पा रहे हैं। इन सियासी जानकारों की माने तो भाजपा की ओर से लगातार कांग्रेस पार्टी पर देश के एक बड़े वर्ग की अनदेखी करने और एक वर्ग विशेष के तुष्टिकरण के आरोप लगते रहे हैं, जिसके बाद पार्टी को भी अपनी पॉलिसी में बदलाव करना पड़ा और सॉफ्ट हिंदुत्व की राह अपनानी पड़ी, जिससे कि देश के बड़े वर्ग को अपने पाले में लाया जा सके। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी कई बार सॉफ्ट हिंदुत्व और हिंदुत्व को लेकर बयान दे चुके हैं। राहुल गांधी राजस्थान में कई मंदिरों के दर्शन करने जाने वाले हैं उससे पहले यह पोस्टर राजनीतिक मायनों से बेहद अहम माने जा रहे हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement