Aaftab Kills Shraddha: श्रद्धा की हत्या करने के लिए क्या पहले से आफताब ने बना लिया था प्लान, जंगल के पास इसी वजह से लिया था फ्लैट!

घटना को 5 महीने से ज्यादा का वक्त हो चुका है। ऐसे में पुलिस को फ्लैट से निकलकर जंगल की तरफ जाते आफताब का कोई सीसीटीवी फुटेज भी नहीं मिल सका है। उसे सजा दिलाने में मददगार सिर्फ इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस है। क्योंकि पुलिस के सामने दिया गया बयान भी कोर्ट सही नहीं मानता है। यानी केस काफी पेचीदा है।

Avatar Written by: November 15, 2022 9:03 am
shraddha and aaftab poonawala

नई दिल्ली। महाराष्ट्र की श्रद्धा वाकर की हत्या का आरोप उसके ब्वॉयफ्रेंड आफताब पूनावाला पर लगा है। करीब 5 महीने पहले श्रद्धा की हत्या हुई थी। आफताब ने उसके शव के 35 टुकड़े किए थे। हर रात वो एक-दो टुकड़े पास के जंगल में फेंक आता था। इस सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा सोमवार को दिल्ली पुलिस ने किया था। कोर्ट के आदेश पर दिल्ली पुलिस को 5 दिन के लिए आफताब का रिमांड मिला है। अब सवाल ये उठ रहा है कि क्या आफताब ने पहले से ही श्रद्धा की हत्या और उसके शव को ठिकाने लगाने का पूरा प्लान बना लिया था? क्या इसी वजह से दिल्ली में ऐसी जगह उसने फ्लैट लिया, जहां पास में जंगल था?

Aaftab and shraddha
आफताब पूनावाला और श्रद्धा वाकर की फाइल फोटो

आफताब से पुलिस सारी जानकारी निकलवाने की कोशिश कर रही है। अभी तक की जानकारी के मुताबिक आफताब और श्रद्धा हिमाचल प्रदेश गए थे। वहां दिल्ली के छतरपुर में रहने वाले किसी युवक से दोनों की मुलाकात हुई थी। इसके बाद ही आफताब और श्रद्धा दिल्ली में रहने आए। दोनों इस साल 8 मई को दिल्ली पहुंचे। पहले पहाड़गंज के होटल में रुके। फिर दक्षिण दिल्ली के सैदुल्लाबाद में ठहरे। इसके बाद छतरपुर के फ्लैट में रहने गए। इसी फ्लैट में 18 मई यानी दिल्ली पहुंचने के ठीक 10 दिन बाद आफताब ने श्रद्धा को गला घोंटकर मार डाला। फिर चाकू लाकर जिस्म के टुकड़े किए। नया फ्रिज खरीदा और उसमें टुकड़े रख दिए।

aaftab poonawala and fridge
श्रद्धा की लाश के टुकड़े रखने के लिए आफताब ने यही फ्रिज खरीदा था

पुलिस को आफताब ने बताया है कि यूट्यूब देखकर उसने खून के निशान मिटाने के लिए केमिकल का इस्तेमाल किया। फ्रिज और बाथरूम को इस केमिकल से अच्छी तरह साफ किया। ऐसे में श्रद्धा के खून के निशान भी मिलने मुश्किल हैं। घटना को 5 महीने से ज्यादा का वक्त हो चुका है। ऐसे में पुलिस को फ्लैट से निकलकर जंगल की तरफ जाते आफताब का कोई सीसीटीवी फुटेज भी नहीं मिल सका है। उसे सजा दिलाने में मददगार सिर्फ इलेक्ट्रॉनिक सर्विलांस है। क्योंकि पुलिस के सामने दिया गया बयान भी कोर्ट सही नहीं मानता है। क्या आफताब को श्रद्धा मर्डर केस में सख्त सजा मिल पाएगी? ये सवाल ऐसे में खड़ा हो रहा है।

Latest