Connect with us

देश

Digvijay Singh: Fake फोटो शेयर करना दिग्विजय सिंह को पड़ा भारी, कांग्रेस नेता पर हुआ अब ये एक्शन

Digvijay Singh: दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा भोपाल जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी ने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर भोपाल क्राइम ब्रांच के डीसीपी को एफआईआर दर्ज करने की मांग का शिकायती आवेदन किया था।

Published

on

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह द्वारा एक ट्वीट के जरिए बिहार के फोटो को खरगोन का बताने के मामले में भोपाल क्राइम ब्रांच ने केस दर्ज कर लिया है। उनके खिलाफ कूटरचित दस्तावेज से धार्मिक भावनाएं आहत करने समेत अन्य कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। भाजपा ने इस ट्वीट को अंतर्राष्ट्रीय षडयंत्र बताकर जांच करने की मांग की है। वहीं, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल को एक पत्र लिखकर दिग्विजय सिंह का ट्विटर हैंडल बंद करने की अपील की है। बता दें, दिग्विजय सिंह के खिलाफ भाजपा भोपाल जिला अध्यक्ष सुमित पचौरी ने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर भोपाल क्राइम ब्रांच के डीसीपी को एफआईआर दर्ज करने की मांग का शिकायती आवेदन किया था। डीसीपी को भेजे इस शिकायत में उन्होंने दिग्विजय सिंह के ट्वीट को प्रदेश में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने वाला बताया था, जिसके चलते उन पर क्राइम ब्रांच ने आईपीसी की 58/22, 153A(1), 295A, 465, 505(2) की धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है।

बता दें, दिग्विजय सिंह ने कल यानी मंगलवार को एक युवक का एक धार्मिक स्थल पर भगवा झंडा फहराने को मध्य प्रदेश के खरगोन का बताकर ट्वीट किया था। इस ट्वीट पर उन्होंने सरकार से सवाल करते हुए टिप्पणी भी की थी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी दिग्विजय सिंह पर धार्मिक उन्माद फैलाने और प्रदेश को दंगे की ओर धकेलने की बात कही थी। वहीं, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी कहा था कि वैधानिक कार्रवाई के लिए कानून विशेषज्ञों की राय ली जा रही है।

Advertisement
Advertisement
Advertisement