राजस्थान के हरीश कुमार ने पढ़ाई के लिए लगाया एड़ी चोटी का जोर, रोज पहाड़ चढ़ ले रहे ऑनलाइन क्लास

देश में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए स्कूल बंद हैं। ऐसे में कई स्कूलों ने ऑनलाइन क्लास शुरू की है। लेकिन ऑनलाइन क्लास में उन छात्रों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जिनके यहां नेटवर्क नहीं आते।

Avatar Written by: July 24, 2020 11:39 am

जयपुर। देश में कोरोना के प्रकोप को देखते हुए स्कूल बंद हैं। ऐसे में कई स्कूलों ने ऑनलाइन क्लास शुरू की है। लेकिन ऑनलाइन क्लास में उन छात्रों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है जिनके यहां नेटवर्क नहीं आते। लेकिन ऐसी स्थिति में भी कई छात्र है जो अपने जुनून से ही कामयाबी का रास्ता खोज लेते है। ऐसी ही कहानी है राजस्थान के बाड़मेर जिले के छात्र हरीश कुमार की।

online class

दरुड़ा गांव के निवासी छात्र हरीश कुमार के लिए ऑनलाइन क्लास परेशानी का सबब बन गई है। इसकी वजह है उनके गांव में नेटवर्क नहीं होना है। जवाहर नवोदय विद्यालय का छात्र होने के कारण क्लास अटेंड करना जरूरी है। जिसकी वजह से उन्हें घर के पास स्थित पहाड़ी के ऊपर टेबल कुर्सी लगाकर पढ़ाई करनी पड़ रही है।

online class

हरीश के पिता वीरमदेव बताते हैं कि हरीश डेढ़ महीने से सुबह 8 बजे पहाड़ी पर चढ़ता है और क्लास खत्म होने के बाद 2 बजे घर लौटता है।
हरिश ने पहाड़ी की ऊंचाई जहां से नेटवर्क अच्छा मिलता हो वहां पर टेबल कुर्सी पहुंचा दी। कड़ी गर्मी के और पत्थरों के तपते लावे के बीच हरिश अपनी पढ़ाई लगातार कर रहा हैं।

हरीश की पढ़ाई के लिए लगन देख कर अब पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट के माध्यम से मदद करने की इच्छा जाहिर की है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost