जम्मू-कश्मीर से अर्धसैनिक बलों की 100 कंपनियों को वापस बुलाने का गृह मंत्रालय ने लिया फैसला

गृह मंत्रालय की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार, इस हफ्ते तक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की कुल 40 कंपनियां और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), सीमा सुरक्षा बल (BSF) और सशस्त्र सीमा बल (SSB) की 20 कंपनियां जम्मू-कश्मीर से वापस लौट जाएंगी।

Avatar Written by: August 19, 2020 7:46 pm

नई दिल्ली। गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने आज बुधवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) से केंद्रीय सुरक्षा बलों (CRPF) की 100 कंपनियों को तत्काल वापस बुलाने का फैसला लिया है, इन 100 कंपनियों में सीआरपीएफ की 40, बीएसएफ की 20, एसएसबी की 20 और सीआईएसएफ की 20 कंपनियां केंद्र शासित प्रदेश में तैनात थीं।

Amit Shah

गृह मंत्रालय से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि केंद्र ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर से लगभग 10,000 अर्धसैनिक बलों के जवानों को तत्काल वापस बुलाने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय ने सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स (सीएपीएफएस) की तैनाती की समीक्षा के बाद यह फैसला लिया।

इस तरह से जम्मू-कश्मीर से सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स की तैनात 100 सीएपीएफ कंपनियों को तत्काल वापस बुलाने और उन्हें देश में अपने-अपने उन निर्धारित स्थानों पर वापस जाने का आदेश दिया गया है, जहां से पिछले साल 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के खात्मे और विशेष राज्य का दर्जा खत्म करने के बाद सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए तैनात किया गया था।

गृह मंत्रालय की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार, इस हफ्ते तक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की कुल 40 कंपनियां और केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), सीमा सुरक्षा बल (BSF) और सशस्त्र सीमा बल (SSB) की 20 कंपनियां जम्मू-कश्मीर से वापस लौट जाएंगी।

Indian Army CRPF BSF Jammu Kashmir

सेंट्रल आर्म्ड पुलिस फोर्स (सीएपीएफ) की एक कंपनी में लगभग 100 कर्मियों की परिचालन क्षमता होती है।

गृह मंत्रालय ने इससे पहले मई में भी इस केंद्र शासित प्रदेश से 10 सीएपीएफ कंपनियों को हटा दिया था।

Support Newsroompost
Support Newsroompost