Connect with us

देश

Government Jobs : पिछले साढ़े 3 साल में योगी सरकार इन क्षेत्रों में दे चुकी है इतनी नौकरियां, आंकड़ें देख विपक्षियों का बोलती होगी बंद

UP Jobs Yogi Government : शुक्रवार को  योगी सरकार(Yogi Government) ने लोकभवन में अधिकारियों संग बैठक में कई अहम निर्देश दिए। सीएम योगी(CM Yogi) ने बैठक में सभी विभागों से रिक्त पदों का विवरण मांगा।

Published

on

cm yogi

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के विरोधी भले ही युवाओं को रोजगार देने का मुद्दा भुनाने की जुगत में लगे हों लेकिन अब योगी सरकार(Yogi Government) ने कुछ ऐसे आंकड़े सामने पेश किए हैं, जिनसे विपक्षियों की बोलती बंद हो जाएगी। आपको बता दें कि बीते साढ़े 3 साल की योगी सरकार में अब तक हुई बड़ी सरकारी भर्तियों में एक लाख 37 हजार पुलिस की भर्ती हो चुकी है। इसके अलावा 50 हजार टीचर की भर्ती हो चुकी है और एक लाख से अधिक अन्य विभागों में भर्ती हो चुकी हैं। इसके अलावा अब मुख्यमंत्री योगी ने शुक्रवार को अधिकारियों संग बैठक कर निर्देश दिए हैं कि प्रदेश के सभी विभागों में खाली पड़े पदों की लिस्ट तलब की जाय और इन पर अगले 3 महीने में भर्ती (Recruitment) प्रक्रिया शुरू की जाए, जो अगले 6 महीने में पूरी कर ली जाए।

UP CM Yogi Adityanath

फिलहाल आपको बताते हैं कि योगी सरकार ने पिछले साढ़े तीन साल में किन क्षेत्र में कितनी नौकरियां प्रदेश के लोगों को दी है।

मार्च 2017 से अब तक दी गई नौकरियां

कुल- 294080

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग समूह ख, ग एवं घ – 8556

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत नियुक्तियां- 28622

प्राविधिक शिक्षा विभाग/व्यावसायिक शिक्षा विभाग- 365

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग- 16708

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड- 137253

सहकारिता विभाग- 726

लोक सेवा आयोग, उत्तर प्रदेश- 26103

चिकित्सा शिक्षा विभाग- 1112

माध्यमिक शिक्षा विभाग (राजकीय एवं सहायता प्राप्त विद्यालय)- 14000

वित्त विभाग- 614

उच्च शिक्षा विभाग (विश्व विद्यालय/महाविद्यालय)- 4615

नगर विकास- 700

कुल भर्ती प्रक्रियाधीन – 85629

पुलिस विभाग- 16629

बेसिक शिक्षा- 69000

jobs up pic इससे पहले शुक्रवार को  योगी सरकार ने लोकभवन में अधिकारियों संग बैठक में कई अहम निर्देश दिए। सीएम योगी(CM Yogi) ने बैठक में सभी विभागों से रिक्त पदों का विवरण मांगा। इसके अलावा सभी भर्ती आयोगों और बोर्ड की बैठक करने का निर्णय लिया। इस बैठक में सीएम योगी ने निर्देश दिया कि अब तक हुई 3 लाख भर्तियों की तरह ही भर्ती प्रक्रिया पारदर्शी तरीक़े से अगले तीन महीने में शुरू करें। उन्होंंने कहा कि, लोगों को छह महीने में नियुक्ति बांटे जाएं। सीएम योगी ने कहा- जिस प्रकार यूपी लोकसेवा आयोग की पारदर्शी व निष्पक्ष भर्तियां हुई हैं, उसी प्रकार पारदर्शी व निष्पक्ष तरीके से सभी भर्तियां की जाएं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement