स्वतंत्रता दिवस : तैयारियां अंतिम चरण में, पीपीई किट में नजर आएंगे पुलिसकर्मी

कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए इस बार लालकिले में होने वाले कार्यक्रमों में भी थोड़ा बदलाव किया गया है। यहां होने वाले कार्यक्रम में इस बार बच्चे नजर नहीं आएंगे। हर साल 15 अगस्त को हजारों स्कूली बच्चे शामिल होते थे, जो तिरंगे के रंग के कपड़े पहने नजर आते थे।

Avatar Written by: August 3, 2020 6:05 pm

नई दिल्ली। कोरोनावायरस का प्रकोप पूरे देश में है, जिसका असर 15 अगस्त को होने वाले स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रमों पर भी दिखाई देगा। इस बार दिल्ली के लालकिले पर होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारी आखिरी पड़ाव पर है। लालकिले में कार्यरत एक अधिकारी के अनुसार, 10 जुलाई तक सभी तैयारियां पूरी कर ली जाएंगी। साथ ही लालकिले को दिन में 2 बार सेनिटाइज भी किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण के प्रकोप को देखते हुए इस बार लालकिले में होने वाले कार्यक्रमों में भी थोड़ा बदलाव किया गया है। यहां होने वाले कार्यक्रम में इस बार बच्चे नजर नहीं आएंगे। हर साल 15 अगस्त को हजारों स्कूली बच्चे शामिल होते थे, जो तिरंगे के रंग के कपड़े पहने नजर आते थे। इस बार के कार्यक्रम में उनकी जगह 500 बड़े बच्चों को बिठाया जाएगा, जो तिरंगे कपड़े पहने होंगे।

इस बार 15 अगस्त को लालकिले पर मेहमानों की संख्या भी कम रहेगी। समारोह में करीब 200 से 250 लोगों को ही आमंत्रित किया जाएगा। इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए सभी मेहमानों की कुर्सियां 2 गज की दूरी पर रखी जाएंगी। हालांकि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हर साल 900 से 1000 लोगों को आमंत्रित किया जाता रहा है।

डीसीपी (नॉर्थ) मोनिका भारद्वाज ने बताया, “15 अगस्त पर सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा जाएगा। वहीं उन पुलिसकर्मियों को पीपीई किट पहनाई जाएगी जो इंसानों के सीधे संपर्क में आएंगे। ऐसे करीब 200 पुलिस स्टाफ है जो इस बार पीपीई किट पहनेंगे।”

लालकिले पर होने वाले कार्यक्रम के मद्देनजर यहां 3 आइसोलेशन चेम्बर भी बनाए गए हैं। यदि किसी व्यक्ति का तापमान ज्यादा होगा या उसमें कोरोना के लक्षण दिखाई देंगे तो उसे तुरंत इन चेम्बर में ले जाया जाएगा। इस मौके पर एम्बुलेंसों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। लालकिले के अंदर ही करीब 10 एम्बुलेंस खड़ी रहेंगी, वहीं डॉक्टर्स भी मौजूद रहेंगे।

15 अगस्त से पहले लालकिले के सभी स्टाफ की कोरोना जांच कराई जाएगी। हालांकि इस बार लालकिले के अंदर होने वाले कार्यक्रम की तैयारियों में कई चुनौतियां सामने आईं। कोरोना के कारण जो मजदूर अपने गांव चले गए, उनके न यहां होने की वजह से काम में दिक्कत आ रही है। लालकिले में कार्यरत एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया, “15 अगस्त के समारोह को लेकर लगभग पूरी तैयारियां कर ली गई हैं, हालांकि लेबर न होने की वजह से थोड़ी परेशानी हुई, लेकिन 10 जुलाई तक तैयारियां पूरी हो जाएंगी।”

Coronavirus

उन्होंने बताया, “हर साल की तरह इस साल कार्यक्रम में बदलाव किया गया है। लालकिले को प्रतिदिन दो बार सेनिटाइज किया जा रहा है। कार्यक्रम से पहले यहां के सभी स्टाफ की कोरोना जांच कराई जाएगी।”

उन्होंने बताया कि लालकिले में जो 3 आइसोलेशन चेम्बर बनाए गए हैं, उनमें डॉक्टर्स भी तैनात रहेंगे। साथ ही लालकिले के अंदर करीब 10 एम्बुलेंस खड़ी रहेंगी। कार्यक्रम में आने वाले सभी लोगों की स्क्रीनिंग कराई जाएगी। उसके लिए जगह-जगह स्टैंड लगाए गए हैं, जहां सभी को सेनिटाइज कराया जाएगा। हालांकि, अभी यह तय नहीं हुआ है कि जिन महमानों को आमंत्रित किया जाएगा, उन सभी को सेनिटाइज करने की व्यवस्था रहेगी या नहीं।

पहले की तुलना में इस साल लालकिले पर आम लोगों की भीड़ कम रहेगी, लेकिन आम लोगों को इस कार्यक्रम में आने की इजाजत रहेगी। जिन लोगों के पास आमंत्रण कार्ड होगा, वे इस कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। हालांकि, इन लोगों के आने और बाहर जाने के लिए अलग-अलग गेट की व्यवस्था की गई है। समारोह स्थल पर बनाए गए 10-12 गेटों में से 2 या 3 गेट से ही आम लोग प्रवेश कर सकेंगे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost