कोरोना काल में झारखंड सरकार हुई मालामाल, मिला इतने सोने का भंडार

कोरोना संक्रमण काल के दौरान पूरा देश आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। आर्थिक स्थिति की डामाडोल हालातों को देखते हुए झारखण्ड सरकार के लिए एक राहत की खबर मिली है।

Avatar Written by: June 4, 2020 4:26 pm

रांची। कोरोना संक्रमण काल के दौरान पूरा देश आर्थिक संकट के दौर से गुजर रहा है। आर्थिक स्थिति की डामाडोल हालातों को देखते हुए झारखण्ड सरकार के लिए एक राहत की खबर मिली है। जहां पूर्वी सिंहभूम जिले में  250 किलो सोने का भंडार मिला है। राज्य सरकार के इस खजाने से 120 करोड़ रुपए आने की संभावना है।

भीतरडारी में सोने के भंडार का पता लगाने का काम भूतत्ववेत्ता पंकज कुमार सिंह के निर्देशन में चल रहा था। इसमें अलग-अलग गुणवत्ता वाले सोने की मात्रा का पता चला है। अलग वैराइटी के स्वर्ण अयस्कों से कुल मिलाकर 250 किलो सोना निकलने की संभावना है।

प्रदेश में सात और स्थानों पर सोने की खान के संकेत मिले हैं

भारतीय भूगर्भ सर्वेक्षण की रिपोर्ट में कहा गया है कि झारखंड देश के गोल्ड स्पॉट वाले राज्य की संभावना के रूप में विकसित हो रहा है। इससे पहले भी लावा, कुंदरकोचा, पहाड़डीहा और परासी में सोने के भंडारों का पता लगाया जा चुका है। प्रदेश में सात और स्थानों पर सोने की खान के संकेत मिले हैं।

आने वाले दिनों में इन जगहों पर खोज कार्य को आगे बढ़ा कर संभावनाओं का पता लगाया जा सकता है। रांची से लेकर तमाड़ के बीच सोने की खानों की खोज का काम कई सालों से जारी है। कई स्थानों पर स्वर्णरेखा नदी के बालू से भी सोने के कण छानने का काम चल रहा है।