कोरोना के उपचार के लिए UP सरकार ने इस दवा को रेकमेंड करते हुए बताया कारगर

स्वास्थ्यकर्मियों को संक्रमण से बचाव के लिए 200μg./Kg बॉडी वेट से पहले, सातवें और 30वें दिन तथा आवृत्ति क्रम में हर महीने यह दवा लेनी चाहिए।

Avatar Written by: August 8, 2020 4:07 pm

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने कोरोना से इलाज में कारगर साबित हो रही Ivermectin टैबलेट को लेकर जीओ जारी किया है। अपर मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद द्वारा जारी जीओ में “Ivermectin” टेबलेट को कोरोना वायरस के खिलाफ कारगर दवा बताया गया है। जारी किए गए आदेश में राज्य के सभी सीएमओ और सीएमएस को “Ivermectin” टेबलेट इस्तेमाल कराने के लिए कहा गया है।

CM Yogi Adityanath

हालांकि, गर्भवती महिलाओं और दो वर्ष से कम उम्र के बच्चों को “Ivermectin” टेबलेट देने से मना किया गया है। 10 विशेषज्ञ चिकित्सकों की समिति ने “Ivermectin” टेबलेट इस्तेमाल को हरी झंडी दी है। आदेश में बताया गया कि संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोगों को संक्रमण से बचाव के लिए 200μg./Kg बॉडी वेट से पहले और सातवें दिन रात का खाना खाने के दो घंटे बाद औसतन 12mg. दवा देनी चाहिए।

medicine

वहीं, स्वास्थ्यकर्मियों को संक्रमण से बचाव के लिए 200μg./Kg बॉडी वेट से पहले, सातवें और 30वें दिन तथा आवृत्ति क्रम में हर महीने यह दवा लेनी चाहिए। इसके अलावा आदेश में कोरोना के इलाज के लिए दवाई के सेवन का तरीका भी बताया गया है। बिना लक्षण वाले मरीजों या कम लक्षण वाले मरीजों में “Ivermectin” को 200μg./Kg बॉडी वेट पर पहले तीन तक रात में एक बार खाना खाने के दो घंटे बाद औसतन 12mg. दवा देनी चाहिए। साथ ही डॉक्सीसाइक्लीन 100μg. औषधि दिन में दो बार पांच दिन तक देनी चाहिए।