Bihar Election: गरीब जनता की सेवा वही कर सकता है, जिसका सीना 56 इंच का होता है: जेपी नड्डा

Bihar Election: जेपी नड्डा (JP Nadda) ने कहा कि बिहार (Bihar) की जनता ने प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) के मार्गदर्शन में और नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए सरकार के गठन का निर्णय पहले ही कर लिया है। बिहार में एनडीए एक बार फिर शानदार जीत दर्ज करेगी।

Avatar Written by: October 15, 2020 8:11 pm
JP NADDA BIHAR

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने गुरुवार को बिहार के काराकाट, विक्रमगंज (रोहतास) और गोह (औरंगाबाद) में आयोजित विशाल जन सभा को संबोधित किया और राज्य की जनता से बिहार के विकास की गति को और धार देने के लिए एक बार पुनः भारी बहुमत से नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बनाने का आह्वान किया। रोहतास में जनसभा को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि राजनीति में भाषण देना और नारे लगाना बहुत आसान होता है। लेकिन गरीब जनता की सेवा वहीं कर सकता है, जिसका सीना 56 इंच का होता है। नड्डा ने कहा कि मोदी जी ने राजनीति की संस्कृति बदल डाली है। 2014 के पहले चुनाव होते थे तो जाति और मजहब के आधार पर वोट बैंक की राजनीति की संस्कृति थी। मोदी जी के आने के बाद काम पर राजनीति हो रही है। इसमें बिहार भी पीछे नहीं रहा और एनडीए की सरकार ने बिहार को आगे बढ़ाया है। 2015 में पीएम मोदी द्वारा घोषित किए गए 1 लाख 25 हजार करोड़ के अलावा 40 हजार करोड़ रुपए दिए। बिहार में आज विकास की धारा बह रही है।

JP NADDA BIHAR

जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार की जनता ने प्रदेश में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में और नीतीश कुमार के नेतृत्व में एनडीए सरकार के गठन का निर्णय पहले ही कर लिया है। बिहार में एनडीए एक बार फिर शानदार जीत दर्ज करेगी। आगे नड्डा ने कहा कि मैं जब भी बिहार आता हूं तो लगता है कि मैं अपने घर आया हूं। मैं यहीं की मिट्टी में पैदा हुआ, यहीं पला-बढ़ा और जीवन के 20 वर्ष यहीं गुजारे हैं। मैंने भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेन्द्र प्रसाद की अंत्येष्टि देखी और लोकनायक जय प्रकाश नारायण जी का आंदोलन भी देखा। मैं इसका चश्मदीद गवाह हूं। बिहार की धरती महात्मा गांधी की तपोभूमि है। लोकनायक जय प्रकाश नारायण ने बताया कि कांग्रेस के बगैर भी सरकार बनाई जा सकती है और वैकल्पिक विचारधारा बन सकती है। बता दें कि जेपी नड्डा काफी समय तक बिहार की राजधानी पटना में रहे हैं। उनकी पढ़ाई लिखाई भी यहीं से हुई है।


नड्डा ने कहा कि कोरोना काल में लोग डरे हुए थे। लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था करनी थी। मोदी जी ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत देश के 80 करोड़ लोगों को मार्च से लेकर छठ-दिवाली तक 5 किलो गेहूं या चावल और 1 किलो दाल मुफ्त देने की व्यवस्था की। नड्डा ने कहा कि इससे कोरोना काल में लोगों को खाने के लिए नहीं सोचना पड़ा।


राष्ट्रीय जनता दल पर हमला बोलते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि उनके कार्यकाल को याद कीजिए। क्या स्थिति वो यहां पर मौजूद सभी लोग जानते हैं। राजद के कार्यकाल में शहाबुद्दीन को राजनीति संरक्षण मिलता रहा। उन्होंने कहा कि 15 साल पहले बिहार में शिक्षा की क्या स्थिति थी, इससे सब वाकिफ हैं। चरवाहा विद्यालय खोलते-खोलते बिहार को चारागाह बना दिया और चारागाह बनाते-बनाते चारा घोटाला कर डाला। आजकल वे ‘चारा’ वाले रांची में बैठे हुए हैं। नीतीश कुमार की सरकार आई, तब जाकर शहाबुद्दीन को जेल भेजा गया। हमने अपराधियों को सजा दिलवाई और आगे भी ऐसा करते रहेंगे।


उन्होंने कहा कि मैं यह कहने के लिए आपके बीच में नहीं आया हूं कि हम आगे क्या करेंगे। मैं तो आपको ये बताने आया हूं कि हमें बिहार के विकास के लिए अब तक क्या-क्या किया है। उन्होंने कहा कि आजाद भारत के 40 वर्ष में बिहार में केवल एक मेडिकल कॉलेज था, बाद में तीन प्राइवेट मेडिकल कॉलेज का अधिग्रहण किया गया जबकि पिछले 6 वर्षों में ही बिहार को 11 मेडिकल कॉलेज और मिले जिस पर काम चल रहा है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost