टीकाकरण अभियान को लेकर ममता सरकार के इस कदम पर कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- ‘ये बेशर्मी की हद है’

Vaccination: कैलाश विजयवर्गीय(Kailash Vijayvargiya) ने आरोप लगाते हुए कहा है कि, पीएम मोदी(PM Modi) द्वारा भेजी जा रही वैक्सीन का फायदा पश्चिम बंगाल को भी मिल रहा है। ऐसे में ममता बनर्जी वैक्सीन को लेकर जारी हुए पत्र में अपनी फोटो लगा रही हैं।

Avatar Written by: January 16, 2021 5:59 pm
Mamta Vaccine kailash Vijayvargiya

नई दिल्ली। आज से जहां पूरे देश में कोरोना वैक्सीन के टीकाकरण अभियान की शुरुआत हो चुकी है वहीं भाजपा के दिग्गज नेता और पश्चिम बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। बता दें कि कैलाश विजयवर्गीय ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर आरोप लगाते हुए कहा कि, देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन करोड़ लोगों को फ्री वैक्सीन भेजी है। लेकिन ममता सरकार इसपर अपना नाम बता रही है। गौरतलब है कि कैलाश विजयवर्गीय ने आरोप लगाते हुए कहा है कि, पीएम मोदी द्वारा भेजी जा रही वैक्सीन का फायदा पश्चिम बंगाल को भी मिल रहा है। ऐसे में ममता बनर्जी वैक्सीन को लेकर जारी हुए पत्र में अपनी फोटो लगा रही हैं। बता दें कि कैलाश विजयवर्गीय ने अपने फेसबुक पेज पर इस बारे में लिखा है कि, “बेशर्मी तेरा आसरा !!! मोदीजी ने देशभर में 3 करोड़ लोगों को फ्री वैक्सीन भेजी है, उसी योजना के अंतर्गत प.बंगाल में भी फ्री वैक्सीन लगाई जा रही है।”

Kailash Vijayvargiya

इसके आगे उन्होंने अपनी पोस्ट में लिखा है कि, “इसके बाद भी ममताजी अपनी फोटो वाले पत्र में कह रही है कि वैक्सीन उन्होंने भेजी है। मैं समझता हूँ कि इससे बड़ा सफ़ेद झूठ नहीं हो सकता। ये बेशर्मी की हद है!”

इसके अलावा पश्चिम बंगाल में वैक्सीनेशन अभियान शुरू होने के दिन ही एक और नजारा देखने को मिला। बता दें कि वैक्सीनेशन प्रक्रिया में सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है, लेकिन ऐसे में पश्चिम बंगाल एक ऐसा राज्य जहां तृणमूल कांग्रेस के नेता अपनी ही मनमर्जी पर उतर आए हैं। बता दें कि बंगाल के पूर्व बर्धमान जिले में तृणमूल कांग्रेस के विधायक ने टीकाकरण के नियमों को तोड़ते पाए गए।

गौरतलब है कि शनिवार को भाटार विधानसभा सीट से टीएमसी विधायक ने जिला अस्पताल में जाकर कोरोना का टीका लगवाया। इतना ही नहीं, इसके अलावा एक और टीएमसी के विधायक ने टीकाकरण के नियमों को तोड़कर वैक्सीन ली। बता दें कि कटवा विधानसभा सीट से रबी चटर्जी ने भी इसी तरह नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए कोरोना की वैक्सीन लगवाई। बता दें कि टीकाकरण की इस प्रक्रिया में विधायकों को टीका नहीं लगना था। इसके बाद भी टीएमसी विधायक ने यहां नियमों की धज्जियां उड़ाई।

गौरतलब है कि टीकाकरण से पहले ही कहा गया है कि, कोरोना की वैक्सीन सबसे पहले फ्रंट लाइन वर्कर्स को लगेगी। इसके बाद सफाई कर्मियों को टीका लगेगा। इसके बाद पुलिसकर्मियों, सुरक्षाकर्मियों, सुरक्षा बल के जवानों को कोरोना का वैक्सीनेशन होगा। दूसरे चरण में 50 वर्ष से ऊपर के लोगों और जो लोग संक्रमण के लिए ज्यादा संवेदनशील हैं, उन्हें टीका लगेगा।

Support Newsroompost
Support Newsroompost