Delhi: आज से दिल्ली में मोदी विरोधी गठबंधन बनाने की कोशिश में जुटेंगी ममता, लेकिन राह में कांग्रेस का कांटा

Delhi: शर्मा के अलावा वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ से भी मिलने वाली हैं। इसके बाद शाम 4 बजे वह पीएम मोदी से मुलाकात करेंगी और अपनी मांगों का पिटारा उनके सामने खोलेंगी। जिसके बाद शाम करीब साढ़े 6 बजे फिर कांग्रेस के नेता अभिषेक मनु सिंघवी के साथ उनकी बैठक होगी।

Written by: July 27, 2021 8:39 am
Narendra Modi And Mamata

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) आज से दिल्ली में मोदी सरकार (Modi Govt) के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करने जा रही हैं। ममता सोमवार को पांच दिन के दौरे पर दिल्ली पहुंची थीं। मोदी सरकार विरोधी अभियान के बीच वह पीएम नरेंद्र मोदी से भी मुलाकात करेंगी। ममता पूरे विपक्ष को साथ लेने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन कांग्रेस का रवैया बता रहा है कि इसमें उन्हें इतनी आसानी से सफलता मिलने की उम्मीद कम ही है। ममता आज दोपहर में विपक्ष के कुछ नेताओं से मिलेंगी। इनमें कांग्रेस के राज्यसभा सांसद आनंद शर्मा भी हैं। शर्मा के अलावा वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ से भी मिलने वाली हैं। इसके बाद शाम 4 बजे वह पीएम मोदी से मुलाकात करेंगी और अपनी मांगों का पिटारा उनके सामने खोलेंगी। जिसके बाद शाम करीब साढ़े 6 बजे फिर कांग्रेस के नेता अभिषेक मनु सिंघवी के साथ उनकी बैठक होगी।

Mamata and PM Modi

मोदी विरोधी सियासत में अगुवा बनने की तैयारी की नजर से देखें, तो ममता के लिए कल यानी बुधवार का दिन अहम होने वाला है। कल वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी। इसके अलावा दोपहर 3 बजे ममता बंग भवन में एनसीपी चीफ शरद पवार, कांग्रेस के नेता पी. चिदंबरम, सपा, आऱजेडी, टीआरएस, आम आदमी पार्टी, डीएमके और शिवसेना नेताओं के साथ बैठक करने वाली हैं।

Mamata Banerjee and Narendra Modi

खास बात ये है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीतने के बाद भले ही मोदी विरोधी गठबंधन का अगुवा बनने की कोशिश कर रही हैं, लेकिन कांग्रेस की ओर से साफ कर दिया गया है कि मोदी विरोध का झंडा सिर्फ सोनिया गांधी के नेतृत्व में ही उठाया जा सकता है। ऐसे में साफ है कि कांग्रेस किसी भी सूरत में ममता का नेतृत्व स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं है।

सोनिया गांधी से तो ममता मिल रही हैं, लेकिन इस लिस्ट में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का नाम नहीं है। सोनिया आजकल प्रियंका के कहे मुताबिक ही काम कर रही हैं। ऐसे में ममता की उनसे मुलाकात न होना साफ बता रहा है कि कांग्रेस और ममता के बीच दूरियां पटी नहीं हैं।

Support Newsroompost
Support Newsroompost