Connect with us

देश

Jharkhand: ‘दोस्ती करो वरना उठा ले जाएंगे’, झारखंड में अल्पसंख्यक युवकों ने दी हिंदू छात्राओं को धमकी, 4 गिरफ्तार

छात्राओं के मुताबिक धमकी देने वाले आरोपी मायापुर चंदरा के हैं। इनके नाम फिरदौस अंसारी, सुहैल अंसारी, मुजम्मिल अंसारी, तौफीक अंसारी और जमील अंसारी हैं। आरोप है कि पिछले एक हफ्ते से ये सभी छात्राओं को धमका रहे थे। शिक्षकों और कुछ छात्रों ने विरोध किया, तो उन्हें भी धमकी दी गई।

Published

on

girl students

रांची। झारखंड के दुमका में लड़की को जलाकर मार दिया गया। एक अन्य घटना में नाबालिग से रेप कर उसे पेड़ से टांगकर फांसी देने का आरोप लगा। दोनों ही घटनाओं में अल्पसंख्यक समुदाय के युवक आरोपी हैं। अब झारखंड की राजधानी रांची के एक स्कूल की हिंदू छात्राओं को दूसरे समुदाय के युवकों की ओर से धमकी दिए जाने का मामला सामने आया है। आरोप है कि रांची के ओरमांझी स्थित प्रोजेक्ट प्लस-2 उच्च विद्यालय के आसपास मुस्लिम युवक आकर हिंदू छात्राओं को हथियार दिखाकर धमकाते हैं। हिंदू छात्राओं का कहना है कि ये युवक कहते हैं कि दोस्ती करो, नहीं तो उठा ले जाएंगे। सभी छात्राएं नौवीं क्लास की हैं। बीते शनिवार को इस मामले में स्कूल में बैठक भी हुई। बैठक के बाद पुलिस से शिकायत भी की गई है। शिकायत के बाद पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी फरार है।

ormajhi thana ranchi

छात्राओं के मुताबिक धमकी देने वाले आरोपी मायापुर चंदरा के हैं। इनके नाम फिरदौस अंसारी, सुहैल अंसारी, मुजम्मिल अंसारी, तौफीक अंसारी और जमील अंसारी हैं। आरोप है कि पिछले एक हफ्ते से ये सभी छात्राओं को धमका रहे थे। शिक्षकों और कुछ छात्रों ने विरोध किया, तो उन्हें भी धमकी दी गई। सारे मामले की जानकारी छात्राओं ने अपने परिवार को दी। इसके बाद बैठक कर ओरमांझी थाने को शिकायत दी गई है। बैठक में कुछ आरोपियों के परिजनों को बुलाया गया था। ओरमांझी थाने के प्रभारी राजीव कुमार ने बताया कि केस दर्ज किया गया है और आरोपियों पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

arrest

बैठक में पीड़ित छात्राओं ने बताया कि आरोपी युवक स्कूल के आसपास नशेबाजी और अड्डाबाजी करते हैं। छात्राओं पर फब्तियां कसते हैं। स्कूल की दीवार फांदकर आ जाते हैं और छेड़छाड़ करते हैं। इसकी जानकारी स्कूल प्रबंधन को भी है। आरोपियों में कुछ इसी स्कूल में थे। उनको ऐसी हरकतों की वजह से प्रबंधन ने निकाल दिया है। छात्राओं ने बताया कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के दिन विवाद बढ़ गया। तब आरोपियों ने स्कूल में जेनरेटर को पलट दिया। फिर हथियार लहराकर टीचर और छात्रों से मारपीट की। फिर छात्राओं को उठा ले जाने की धमकी भी दी।

Advertisement
Advertisement
Advertisement