Connect with us

देश

Bihar: अपनी पार्टी और हैसियत खतरे में है लेकिन सपना देख रहे दिल्ली का, PM मोदी को 2024 की चुनौती देते हुए नीतीश ने कहा…

Bihar: दरअसल, मीडिया वालों ने सीएम नीतीश कुमार से साल 2024 में प्रधानमंत्री पद की दावेदारी को लेकर सवाल किया। जिसके बाद नीतीश कुमार ने सीधे जवाब नहीं दिया। लेकिन इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साध दिया। उन्होंने कहा कि, हमारी किसी भी पद के लिए कोई दावेदारी नहीं है। लेकिन साल 2014 में आए वो 2024 के बाद रह पाएंगे या नहीं?।

Published

on

नई दिल्ली। बिहार में आखिरकार बुधवार को सत्ता परिवर्तन हो गया है। प्रदेश में एक बार फिर से चाचा (नीतीश कुमार) और भतीजे (तेजस्वी यादव) की सरकार बन गई है। नीतीश कुमार 8वीं बार राज्य के मुख्यमंत्री बन गए हैं, राज्यपाल फागू चौहान ने उन्हें राजभवन में पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। वहीं आरजेडी प्रमुख लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली। सीएम पद की शपथ लेने के बाद नीतीश कुमार ने मीडिया से भी बात की। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। बता दें कि नीतीश ने भाजपा से गठबंधन तोड़ा लिया। जेडीयू ने लालू यादव की पार्टी आरजेडी के साथ मिलकर सरकार बना ली है।

CM Nitish Kumar

दरअसल, मीडिया वालों ने सीएम नीतीश कुमार से साल 2024 में प्रधानमंत्री पद की दावेदारी को लेकर सवाल किया। जिसके बाद नीतीश कुमार ने सीधे जवाब नहीं दिया। लेकिन इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साध दिया। उन्होंने कहा कि, हमारी किसी भी पद के लिए कोई दावेदारी नहीं है। लेकिन साल 2014 में आए वो 2024 के बाद रह पाएंगे या नहीं?। मगर जिस पार्टी के दम पर उन्होंने बिहार में सरकार बनाई आज वो उन्हीं का साथ छोड़कर विपक्षियों के साथ सरकार बना ली है। इसके साथ ही जहां नीतीश कुमार की पार्टी के नेता आरसीपी सिंह ने जेडीयू का साथ छोड़ दिया और नीतीश कुमार पर हमला भी बोला था।

नीतीश कुमार की अपनी ही पार्टी के अंदर घमासान चल रहा हो। ऐसे में वो अब विपक्षी खेमे में शामिल होने के बाद बिहार से वाया दिल्ली का सपना देख रहे हैं। वो सीधे-सीधे पीएम मोदी को चुनौती दे रहे हैं। अब वो अपने आप को पीएम पद के दावेदार के तौर पर देखना शुरू कर चुके हैं। किंतु उनका ये सपना यकीनन सच होना मुश्किल ही नहीं नामुमिकन भी है, क्योंकि उनकी इस राह में ममता बनर्जी समेत कई नेता कांटा बन सकते हैं।

CM Nitish Kumar

हैरान करने वाली बात ये है कि जिस नीतीश कुमार ने साल 2020 के विधानसभा चुनाव में भाजपा के दम पर सरकार बनाई थी। उन्होंने उसी पार्टी के साथ पलटी मारी है। इतना ही नहीं जेडीयू को इस बार चुनाव में महज 45 सीटें मिली थी। जबकि भाजपा के खाते में 77 सीटें आई थी। लेकिन भाजपा ने चुनाव से पहले ही उन्हें सीएम पद का दावेदार बनाया था। इसके अलावा बिहार में छठी बार सरकार बदलने पर भी नीतीश कुमार सीएम बने हैं।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement