अब 11 अंकों के होंगे मोबाइल नंबर, इस वजह से ट्राई ने की सिफारिश

टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने एक बेहद अहम सिफारिश की है। इस सिफारिश के मुताबिक अब मोबाइल नंबर दस की जगह ग्यारह अंकों के होंगे।

Written by: May 30, 2020 8:28 pm

नई दिल्ली। टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) ने एक बेहद अहम सिफारिश की है। इस सिफारिश के मुताबिक अब मोबाइल नंबर दस की जगह ग्यारह अंकों के होंगे। ट्राई ने यह सिफारिश ‘यूनिफाइड नंबरिंग प्लान’ के तहत की है। इस प्लान के तहत सुझाव दिया गया है कि मोबाइल नंबर के अंकों को 10 की बजाय 11 कर देना चाहिए। साथ ही लैंडलाइन से फोन करने से पहले शून्य लगाना अनिवार्य होगा। इससे लगभग 10 अरब मोबाइल नंबर प्रभावित होंगे।

TRAI

ट्राई में अपने प्रस्ताव में कहा कि मोबाइल नंबर के पहला अंक अगर 9 रखा जाए तो 10 से 11 अंकों के मोबाइल नंबर पर स्विच होने से देश में कुल 10 बिलियन (1000 करोड़) नंबर्स की क्षमता हो जाएगी। ट्राई ने आगे कहा कि 70 प्रतिशत यूटिलाइजेशन और मौजूदा पॉलिसी के साथ 700 करोड़ कनेक्शन होने तक के लिए काफी है।


ट्राई की इस सिफारिश से अधिक संख्या मे मोबाइल नंबर दिए जा सकेंगे। उनकी क्षमता में बेतहाशा इजाफा होगा। सिफारिशों में मोबाइल नंबरों को 10 से 11 अंकों में शिफ्ट करने के सुझाव हैं और इन 11 अंकों का पहला अंक 9 होगा।

वहीं डोंगल के लिए फिलहाल 10 नंबरों का मोबाइल नंबर वितरित किया जाता है जबकि ट्राई द्वारा सिफारिश की गई है कि डोंगल के मोबाइल नंबर को बदलकर 10 की बजाय 13 अंको का कर देना चाहिए।