Connect with us

देश

Kerala undergarment Row: छात्राओं के अंडरगारमेंट्स उतरवाने पर NWC हुआ सख्त, NTA से मांगी रिपोर्ट

Kerala undergarment Row: वहीं अब राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने मामले पर संज्ञान लिया है। आयोग ने केरल में नीट यूजी परीक्षा से पहले स्क्रीनिंग के दौरान छात्राओं को अपने अंडरगारमेंट्स को उतारने के लिए मजबूर किए जाने के मामले को गंभीरता से लिया है।

Published

नई दिल्ली। केरल में NEET परीक्षा के दौरान छात्राओं से अंडरगारमेंट्स उतरवाने को लेकर बवाल मचा हुआ है। एक तरफ जहां छात्र संगठनों ने मामले को लेकर अपना रोष व्यक्त किया। छात्रों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए कॉलेज में तोड़फोड़ भी की। वहीं एग्जाम के दौरान छात्राओं के अंडरगारमेंट्स उतरवाने के कथित मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।  केरल पुलिस ने इस मामले को आईपीसी की धारा 354 और धारा 509 के तहत दर्ज किया गया है।आपको बता दें कि 17 जुलाई, 2022 के दिन देशभर में मेडिकल के पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा यानी नीट यूजी की परीक्षा आयोजित की गई थी, जिसमें 18 लाख से अधिक छात्र शामिल हुए थे।

वहीं अब राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने मामले पर संज्ञान लिया है। आयोग ने केरल में नीट यूजी परीक्षा से पहले स्क्रीनिंग के दौरान छात्राओं को अपने अंडरगारमेंट्स को उतारने के लिए मजबूर किए जाने के मामले को गंभीरता से लिया है। इसके साथ ही मामले में संज्ञान लेते हुए तय समय पर रिपोर्ट मांगी है। राष्ट्रीय महिला आयोग ने कहा कि यह वारदात बेटियों के मान-सम्मान के लिए शर्मनाक और अपमानजनक है।

आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने छात्राओं द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच करने के आदेश विनित जोशी को दिए हैं। इतना ही नहीं, आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने के आदेश भी दिए गए हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement