Connect with us

देश

Amarinder Singh: कृषि कानूनों की वापसी के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह के लिए रास्ता साफ, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मिलने आ रहे हैं दिल्ली, गठबंधन पर बन सकती है बात

Amarinder Singh: पंजाब में कांग्रेस पार्टी मिले झटके के बाद अपनी अलग पार्टी बनाने की घोषणा करने वाले पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अब अपने सभी राजनीतिक भविष्य को लेकर रास्ते खुले होने के संकेत दिए हैं। दरअसल कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस के आलाकमान से खुले तौर पर नाराजगी जाहिर की है।

Published

on

नई दिल्ली। पंजाब में कांग्रेस पार्टी मिले झटके के बाद अपनी अलग पार्टी बनाने की घोषणा करने वाले पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अब अपने सभी राजनीतिक भविष्य को लेकर रास्ते खुले होने के संकेत दिए हैं। दरअसल कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कांग्रेस के आलाकमान से खुले तौर पर नाराजगी जाहिर की है। वहीं अब वह मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी चीफ जेपी नड्डा से मुलाकात करने दिल्ली आ रहे हैं। जिसके साथ ही कैप्टन के बीजेपी में शामिल होने की अटकलें और तेज हो गई है। इस मामले में मिली जानकारी के अनुसार कैप्टन अमरिंदर सिंह दिल्ली के लिए रवाना हो रहे हैं। जहां अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ उनकी मीटिंग तय हो गई है।

Amrinder singh

गौरतलब है कि इस महीने ही पंजाब कांग्रेस में चल रहे शह-मात के खेल को रोकते हुए कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। कैप्टन से कांग्रेस आलाकमान ने इस्तीफा देने को कहा था। जिसके बाद कैप्टन का कहना था कि पंजाब में चलाए गए राजनीतिक घटनाक्रम से उन्होंने अपमानित महसूस किया। सीएम पद के बाद संभव है कि वह कांग्रेस भी छोड़ दें।

amrinder-singh

कैप्टन के इस्तीफे के बाद कई बार यह बात खुलकर सामने आई कि वह कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को किसी भी कीमत पर मुख्यमंत्री नहीं बनने देंगे। इतना ही नहीं कैप्टन ने यह भी कहा था कि सिद्धू के पाकिस्तानी सेना चीफ कमर जावेद बाजवा और पीएम इमरान खान के साथ दोस्ती है। यह भी कहा कि सिद्धू के खिलाफ वह मजबूत उम्मीदवार को उतारेंगे। कैप्टन के इस्तीफे के बाद कांग्रेस पार्टी ने चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब की जिम्मेदारी सौंपी थी।

Advertisement
Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Advertisement
Advertisement