Connect with us

देश

Video: पंचायती राज दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने किया पंचायत संदस्यों को संबोधित, इन मुद्दों पर रखी अपनी बात

PM Modi : पीएम मोदी पल्ली पंचायत के प्रतिनिधि ने पल्ली में सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया, जिसने इसे कार्बन-न्यूट्रल बना दिया है। इसके अलावा पीएम मोदी ने कृषि क्षेत्र में सोलर पावर के इस्तेमाल पर भी बल दिया। उन्होंने सोलर पावर और सोलर कूकर के कृषि क्षेत्र में होने जा रहे उपयोग को रेखांकित किया।

Published

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पंचायत दिवस के मौके पर पंचायती सदस्यों को संबोधित करने हेतु जम्मू-कश्मीर के सांबा जिले पहुंचे थे। जहां उन्होंने कई मसलों को लेकर अपनी राय रखी। इस दौरान पंचायत के सदस्यों ने पीएम मोदी को महिलाओं द्वारा उनकी आवभगत को लेकर की गई तैयारियों से भी अवगत कराया। पंचायत सदस्यों ने कहा कि इस मौके को खास बनाने के लिए प्रत्येक परिवार की तरफ से 2 रोटी एकत्रित की जाती है, ताकि इस मौके को खास बनाया जा सकें। वहीं, सांबा में पहुंचे पीएम मोदी के रुख पर भी उत्साह हिलोरे मारती दिख रही थी। इस दौरान पीएम मोदी ने घाटी के विकास की रूपरेखा भी प्रस्तुत की। इस दौरान उन्होंने घाटी के विकास हेतु अपनी रूपरेखा भी प्रस्तुत की।

आर्टिकल 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू पहुंंचे पीएम मोदी, राष्ट्रीय पंचायती  राज दिवस कार्यक्रम में होंगे शामिल Ratan Times

बता दें कि इस दौरान पीएम मोदी पल्ली पंचायत के प्रतिनिधि ने पल्ली में सौर ऊर्जा संयंत्र की स्थापना के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया, जिसने इसे कार्बन-न्यूट्रल बना दिया है। इसके अलावा पीएम मोदी ने कृषि क्षेत्र में सोलर पावर के इस्तेमाल पर भी बल दिया। उन्होंने सोलर पावर और सोलर कूकर के कृषि क्षेत्र में होने जा रहे उपयोग को रेखांकित किया। पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान प्राकृतिक कृषि पर भी जोर दिया। उन्होंने खेती की इस  शैली को लाभप्रद बताया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने सभी लोगों से पंचयाती राज दिवस के मौके को हर्षों-उल्लास के साथ मनाए जाने की भी बात कही है। उन्होंने इस मौके को खास अंदाज मनाने के लिए सभी लोगों को साथ आना चाहिए।

J&K: जम्मू के सांबा जिले की पल्ली पंचायत पहुंचे PM मोदी, राज्य को दी 20  हजार करोड़ की सौगात - j k pm modi reaches samba in jammu

इस दौरान पीएम मोदी ने ग्रामीण इलाकों के विकास पर अधिक जोर दिया। उन्होंने कहा कि शहरों की विकास तभी मुमकिन हो पाएगा, जब गांवों तक विकास की बयार पहुंचेगी। उन्होंने ग्रमीण विकास पर जोर डाला। इस दौरान पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर के विकास हेतु जनता-जनार्दन के बीच 20 हजार करोड़ को भी प्रस्तुत किया। बता दें कि पीएम मोदी द्वारा जम्मू-कश्मीर के विकास के संदर्भ में पस्तुत किए जा रहे तमाम परियोजनाओं की चर्चा अपने चरम पर पहुंच चुकी है। अब ऐसी स्थिति में यह देखना दिलचस्प रहेगा कि उनके द्वारा पेश किए गए विकासी वादे कब तक जीवंत रुख अख्तियार कर पाते हैं।

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement