West Bengal : बर्धमान में गरजे PM मोदी, कहा- बंगाल में दीदी की पारी समाप्त हो चुकी है

West Bengal Election 2021: पीएम मोदी ने कहा कि चार चरणों के चुनाव में बंगाल की जागरूक जनता ने इतने चौके-छक्के मारे कि भाजपा की सीटों की सेंचुरी हो गई है। जो आपके साथ खैला करने की सोच रहे थें, उन्हीं के साथ खैला हो गया है।

Avatar Written by: April 12, 2021 12:25 pm
PM Narendra Modi

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में 8 चरणों में विधानसभा चुनाव के मतदान होने हैं। अभी तक 4 चरणों के मतदान हो चुके हैं। बता दें कि बंगाल में पांचवे चरण के तहत 6 जिलों की 45 सीटों पर 17 अप्रैल को मतदान होगा। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी कमर कस ली है और आज पार्टी बंगाल के कई इलाकों में जनसभाएं करेगी। इसी कड़ी में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल के बर्धमान में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंंत्री ममता बनर्जी पर हमला किया।

पीएम मोदी के संबोधन की अहम बातें-

बहनों-बेटियों से कहना चाहता हूं कि आपके इस सेवक ने अपनी जिम्मेदारी समझते हुए हर घर नल से शुद्ध जल पहुंचे इसके लिए बड़ी योजना शुरु की है। बंगाल की सरकार को भी सैकड़ों करोड़ रुपये इसके लिए हमने भेजे हैं। लेकिन दीदी ने इसका बहुत बड़ा हिस्सा खर्च ही नहीं किया।

‘धान का कटोरा’ कहा जाने वाला हमारा बर्धमान, यहां के लोग, आज मूल सुविधाओं के लिए तरस रहे हैं। आज़ादी के शुरुआती वर्षों में जो नहरें बनीं, उसकी सही देखरेख तक यहां की सरकार नहीं कर पाई। नई नहरें बनाना कभी दीदी की प्राथमिकताओं में रहा ही नहीं।

दीदी, क्या उस पुलिस अफसर की मां, आपके लिए मां नहीं थीं? आप इतनी कठोर हैं, इतनी निर्मम हैं, इसका अंदाजा बंगाल की किसी मां को नहीं था।

वो वीर जवान, दो दिन पहले अपने कर्तव्य का पालन करने बंगाल की धरती पर आया था। लेकिन यहां बंगाल में पीट-पीट कर उस पुलिस अफसर की हत्या कर दी गई। मां ने जब अपने वीर जवान बेटे का शव देखा, तो उसने दम तोड़ दिया।

जिस बंगाल की भाजपा के जन्म में बहुत बड़ी भूमिका है, उस बंगाल की जितने सेवा भाजपा करे उतना कम होगी। आपकी एक-एक आवश्यकता, आपकी एक-एक जरूरत को ध्यान में रखते हुए, भाजपा सरकार काम करेगी।

दीदी ने बंगाल में गवर्नेंस के नाम पर बहुत बड़ा गड़बड़झाला किया है। जन्मदिन मनाना है, तो TMC से पूछो। घर बनाना है, तो TMC को कट-मनी दो। राशन लेना है, तो TMC को कटमनी दो। कहीं अपना सामान ले जाना है, अपना सामान लाना है, तो TMC को कट-मनी दो।

दीदी ने 10 साल तक मां, माटी, मानुष के नाम पर बंगाल पर राज किया है। लेकिन इन दिनों सभा में मां, माटी, मानुष नहीं बल्कि मोदी, मोदी, मोदी… करती रहती हैं।

आपको गुस्सा करना है तो मैं हूं न, मुझ पर कीजिए। जितनी मर्जी गाली दीजिए। लेकिन बंगाल की गरिमा, बंगाल की गौरवमयी परंपरा का अपमान मत कीजिए।

PM Narendra Modi in Bardhaman

अरे दीदी, हार होती देख ये क्या हो गया आपको, आपके करीबियों को? हालत तो ये हो गई है कि दीदी अब केंद्रीय वाहिनी के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं।

वो राजा राम मोहन राय जिन्होंने जाति प्रथा के खिलाफ देश को झकझोरा, इस कुरीति को मिटाने के लिए देश को दिशा दिखाई, उनके बंगाल में दीदी ने दलितों को इतना बड़ा अपमान किया है।

दीदी के लोग बंगाल के अनुसूचित जाति के भाई-बहनों को गाली देने लगे हैं। दीदी के करीबी लोग उन्हें भिखारी कहने लगे हैं। बाबा साहेब की आत्मा को दीदी के कड़वे शब्द सुनकर कितना कष्ट हुआ होगा।

दीदी को ये भी मालूम है कि एक बार बंगाल से कांग्रेस गई तो कभी वापस नहीं आई। वामपंथी वाले, लेफ्ट वाले गए वापस नहीं आएं। दीदी, आप भी एक बार गई तो कभी वापस नहीं आएंगी।

और तीसरा, दीदी की पूरी टीम को ही बंगाल के लोगों ने मैदान से बाहर जाने को कह दिया है। अब दीदी बंगाल के लोगों से गुस्सा तो होंगी ही।

दूसरा, बंगाल के लोगों ने दीदी का बहुत बड़ा प्लान फेल कर दिया। दीदी तैयारी करके बैठी थीं कि पार्टी की कप्तानी भाइपो को सौंपेंगी, लेकिन दीदी का ये खैला भी जनता ने समय रहते समझ लिया। इसलिए दीदी का सारा खैला धरा का धरा रह गया।

एक तो नंदीग्राम में बंगाल के लोगों ने दीदी को क्लीन बोल्ड कर दिया। यानि बंगाल में दीदी की पारी समाप्त हो चुकी है।

PM Narendra Modi in Bardhaman

चार चरणों के चुनाव में बंगाल की जागरूक जनता ने इतने चौके-छक्के मारे कि भाजपा की सीटों की सेंचुरी हो गई है। जो आपके साथ खैला करने की सोच रहे थें, उन्हीं के साथ खैला हो गया है।

दीदी की कड़वाहट, उनका क्रोध, उनकी बौखलाहट बढ़ती ही जा रही है। जानते हैं क्यों? मैं बताता हूं। क्योंकि बंगाल में हुए आधे चुनावों में आपने टीएमसी को पूरा साफ कर दिया है। यानि आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ।

बर्धमान की 2 चीजें बहुत मशहूर हैं। एक तो चावल और दूसरा मिहिदाना। आपकी बोली, आपका व्यवहार, यहां का खान-पान हर चीज में भरपूर मिठास है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost