Coronavirus: कोरोना के बढ़ते प्रसार पर मुख्यमंत्रियों संग पीएम मोदी की बैठक, कहा कोरोना को इसी वक्त कंट्रोल करना बहुत जरूरी

Coronavirus: पीएम नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों की बैठक में कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए फिर से युद्ध स्तर पर काम करना जरूरी है। तमाम चुनौतियों के बाद भी हमारे पास पहले की अपेक्षा बेहतर अनुभव और संसाधन हैं और वैक्सीन भी हमारे पास है। पीएम मोदी ने कहा लोग बहुत बेफिक्र हो गए हैं। प्रशासन भी बहुत सुस्त नजर आ रहा है। एक बार फिर हालात चुनौतीपूर्ण हो रहे हैं। इस बार खतरा पहले से ज्यादा है।

Avatar Written by: April 8, 2021 8:31 pm
Narendra Modi meeting With CM

नई दिल्ली। पूरे देश में कोरोनावायरस की दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक तरीके से फैल रही है। पहली लहर के सारे के सारे आंकड़े धरे के धरे रह गए। इस बार दैनिक आंकड़े सवा लाख को पार कर गए हैं। जिसकी वजह से राज्य सरकारें शतर्क हो गई है। इसपर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी तरह से नजर बना रखी है। इसी क्रम में आज कोरोना के देशभर में बढ़ते प्रसार को लेकर पीएम मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्रियों के संग बैठक की। इस बैठक के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने बताया कि बैठक के दौरान मुख्यमंत्रियों की तरफ से बेहतरीन सुझाव आए हैं। इन सारे सुझावों पर ध्यान दिया जा रहा है।

Narendra Modi meeting With CM

पीएम नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्रियों की बैठक में कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए फिर से युद्ध स्तर पर काम करना जरूरी है। तमाम चुनौतियों के बाद भी हमारे पास पहले की अपेक्षा बेहतर अनुभव और संसाधन हैं और वैक्सीन भी हमारे पास है। पीएम मोदी ने कहा लोग बहुत बेफिक्र हो गए हैं। प्रशासन भी बहुत सुस्त नजर आ रहा है। एक बार फिर हालात चुनौतीपूर्ण हो रहे हैं। इस बार खतरा पहले से ज्यादा है।


पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना को इसी वक्त कंट्रोल करना बहुत जरूरी है। कोरोना की पहली लहर से दूसरी लहर ज्यादा तेज है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि माइक्रो कंटेनमेंट जोन पर ज्यादा जोर होना चाहिए, शहर में छोटे-छोटे कंटेनमेंट जोन बनें, पूरा फोकस माइक्रो कंटनमेंट जोन पर होना चाहिए। इसके साथ ही पाएम मोदी ने कहा कि दुनिया भर में नाइट कर्फ्यू का प्रयोग सफल रहा।

Narendra Modi meeting With CM

मुख्यमंत्री के साथ बैठक के बाद पीएम मोदी ने अपील करते हुए कहा कि अगले 2-3 हफ्ते बहुत सख्ती करनी होगी। पहले संसाधन थे फिर भी सफलता मिली अभी संसाधन ज्यादा लेकिन लापरवाही भी ज्यादा हो रही है। पीएम मोदी ने कहा कि हर राज्य ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग करें। अब बहुत ज्यादा मरीज बिना लक्षण वाले आ रहे हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा कि वैक्सीन से ज्यादा चर्चा टेस्टिंग की कीजिए, वायरस तभी रुकेगा जब मरीज की सही पहचान होगी, हर राज्य को टेस्टिंग और ट्रैकिंग बढ़ानी होगी।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि टेस्टिंग में लापरवाही हो रही है, सैंपल सही तरीके से लेना चाहिए, हर राज्य RT-PCR टेस्ट बढ़ाए। आज हम जितनी ज्यादा वैक्सीन की करते हैं, इससे ज्यादा हमें टेस्टिंग पर बल देने की जरूरत है। टेस्टिंग और ट्रेकिंग की बहुत बड़ी भूमिका है। टेस्टिंग को हमें हल्के में नहीं लेना होगा। पीएम मोदी ने कहा कोविड मैनेजमेंट का एक बहुत बड़ा पार्ट vaccine wastage को रोकना भी है। vaccine को लेकर राज्य सरकारों की सलाह, सुझाव और सहमति से सही देशव्यापी रणनीति बनी है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि वैक्सीनेशन के साथ-साथ हमें ये भी ध्यान रखना है कि वैक्सीन लगवाने के बाद की लापरवाही न बढ़े। हमें लोगों को ये बार-बार बताना होगा कि वैक्सीन लगने के बाद भी मास्क और सावधानी जरूरी है।

Support Newsroompost
Support Newsroompost