‘जय श्रीराम’ से ममता हुईं इतनी नाराज कि PM मोदी संग मंच साझा करने को नहीं हैं राजी!

West Bengal: कार्यक्रम में ममता(Mamta Banerjee) के ना शामिल होने को लेकर सूत्रों से जानकारी मिली है कि, ममता बनर्जी के कार्यालय ने पीएमओ(PMO) को अपनी तरफ से बता दिया है कि वो इस सरकारी कार्यक्रम के दौरान मौजूद नहीं रहेंगी।

Avatar Written by: February 7, 2021 11:19 am
modi with mamta

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव इसी साल होने हैं, ऐसे में राज्य में भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज होती जा रही है। इसके अलावा अगर भाजपा की बात करें तो बीजेपी लगातार बंगाल में अपनी स्थिति मजबूत करने की कोशिश कर रही है। बता दें कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में ये तो साफ हो गया है कि भाजपा जय श्रीराम के नारे को नहीं छोड़ने वाली है। कुछ दिन पहले ही पीएम मोदी जब सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर बंगाल पहुंचे थे तो वहां एक कार्यक्रम में लगाए गए ‘जय श्रीराम’ के नारे से ममता बनर्जी काफी खफा हो गई थीं। उन्होंने पीएम मोदी के सामने ही अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए कहा था कि, किसी सरकारी कार्यक्रम की एक मर्यादा होनी चाहिए। इस तरह किसी को बुलाकर बेइज्जत नहीं करना चाहिए। ममता की नाराजगी अब कुछ इस कदर बरकरार है कि वो पीएम मोदी के कार्यक्रमों से दूरी बनाने लगी हैं।

बता दें कि पीएम मोदी दिल्ली से आज फिर बंगाल पहुंच रहे हैं। इस दौरान हल्दिया में पीएम मोदी का कार्यक्रम सरकारी भी है। लेकिन ममता बनर्जी ने इस कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगी। जबकि सरकारी प्रोटोकॉल के मुताबिक इसमें शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी न्योता भेजा गया है। बता दें कि पीएम नरेंद्र मोदी दोपहर को सीधे असम से हल्दिया पहुंचेंगे।

mamta banerji

इस कार्यक्रम में ममता के ना शामिल होने को लेकर सूत्रों से जानकारी मिली है कि, ममता बनर्जी के कार्यालय ने पीएमओ को अपनी तरफ से बता दिया है कि वो इस सरकारी कार्यक्रम के दौरान मौजूद नहीं रहेंगी। आखिर ममता बनर्जी पीएम के साथ एक सरकारी मंच पर मौजूद क्यों नहीं रहना चाहती हैं। इसके पीछे माना जा रहा है कि बंगाल के विक्टोरिया हॉल में हुई घटना के चलते सीएम ममता बनर्जी ने यह फैसला लिया है। वहीं भाजपा सूत्रों का कहना है कि, ममता जय श्रीराम के नारों से बचना चाहती हैं।

शनिवार को पीएम ने ट्वीट कर कहा है, “मैं हल्दिया, पश्चिम बंगाल में रहूंगा। वहां बीपीसीएल की ओर से निर्मित एलपीजी इंपोर्ट टर्मिनल को राष्ट्र को समर्पित करूंगा। इसके अलावा प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा प्रोजेक्ट के तहत दोभी-दुर्गापुर नेचुरल गैस पाइपलाइन सेक्शन को भी राष्ट्र को समर्पित करूंगा।” हल्दिया रिफाइनरी के अलावा पीएम मोदी दूसरी परियोजनाओं का भी उद्घाटन करेंगे।

Support Newsroompost
Support Newsroompost