Connect with us

देश

Madhya Pradesh: खालिस्तानी समर्थक आसन सिंह को पुलिस ने धर दबोचा, अवैध हथियार कराता था मुहैया

Madhya Pradesh: खालिस्तानी हमारे देश क लिए लगातार खतरा बनते जा रहे हैं। बीते दिनों कई आंदोलनों में खालिस्तानी समर्थकों ने अपनी मौजूदगी से यह साफ कर दिया है कि उनके जेहन में पल्लवित हो रही नापाक मंशा अब धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है। वहीं, इनके समर्थकों की संख्या में भी लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इस बीच एमपी पुलिस ने एक ऐसे ही खालिस्तानी समर्थक को कड़ा सबक सिखयाा है। आइए, आपको इस रिपोर्ट में विस्तार से बताते हैं।

Published

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के खरगोन जिले से पुलिस ने खालिस्तानी आतंकियों को अवैध हथियार पहुंचाने के आरोप में आसन सिंह को गिरफ्तार किया है। विगत सात माह से पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई थी। उसकी सभी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी। उस पर आरोप है कि वह अवैध रूप से खालिस्तानियों को हथियार पहुंचाया करता था। आसन सिंह खरगोन जिले का रहने वाला बताया जा रहा है। फिलहाल, उसे हिरासत में लिया जा चुका है, जहां उससे मामले के संदर्भ में पूछताछ की जाएगी। बताया जा रहा है कि आगामी दिनों में पुलिस उसकी रिमांड अवधि बढ़ाने की मांग कर सकती है। बता दें कि इससे पहले जनवरी माह में भी पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया था, जो कि खालिस्तानी आतंकवादियों को राज्य से अवैध रूप से हथियार मुहैया कराते थे।

independence day khalistan flag, स्वतंत्रता दिवस के दिन लालकिले पर खालिस्तान  का झंडा फहराने वाले को 1.25 लाख डॉलर का इनाम! - sfj announces 1.25 lakh  dollar reward for hoisting ...

हालांकि, पुलिस को चार लोगों की तलाश थी, लेकिन चौथा शख्स पुलिस को चकमा देने में कामयाब रहा था और हैरत की बात यह है कि वह अभी-भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है, लेकिन आसन सिंह की गिरफ्त में आने के बाद पुलिस ने आश्वासन दिया है कि आगामी दिनों में चौथे शख्स को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। फिलहाल, पुलिस इस पूरे मामले में आसन सिंह से हर उस पहलू को लेकर पूछताछ करेगी, जो कि आगामी दिनों में इस पूरे मामले की दिशा व दशा तय करने में अहम किरदार अदा कर सकते हैं।

वहीं, अगर इस पूरे मामले की दूसरे पहलू की बात करें, तो पुलिस को आसन सिंह के पास 21 देसी कट्टे बरामद हुए हैं। पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ धारा 25(1)(a), 25(1)(b) आर्म्स ऐक्ट के तहत मामला दर्ज किया था। उधर, पुलिस अधीक्षक राहुल लोढ़ा का इस पूरे मामले में कहना है कि विगत 31 जुलाई को ही आसन सिंह को गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन वह पुलिस को चकमा देने में सफल हो गया था। अब जब उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। अभी आसन सिंह पुलिस की रिमांड में है।

हालांकि, बताया जा रहा है कि इस पूरे मामले में समुचित जानकारी हासिल करने के लिए आसन सिंह कई पहलुओं के बारे में पूछताछ की जाएगी। फिलहाल, मसला खालिस्तानियों से जुड़ा हुआ है, तो इस पूरे ही मामले में पुलिस की संजीदगी कुछ ज्यादा है। ऐसे में अब देखना होगा कि पुलिस की तफ्तीश मुकम्मल होने के बाद इस पूरे मामले में क्या कुछ सच्चाई निकलकर सामने आती है। तब तक के लिए आप देश दुनिया की तमाम बड़ी खबरों से रूबरू होने के लिए आप पढ़ते रहिए। न्यूज रूम पोस्ट.क़ॉम

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement